ताज़ा खबर
 

अयोध्‍या मंदिर पर बोले यूपी बीजेपी प्रमुख- दिवाली तक खुशखबरी की प्रतीक्षा कीजिए, योगी जी ने बनाई है योजना

महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री के साथ ही संत भी हैं। अयोध्या के लिए उनके मन में निश्चित रूप से कई योजनाएं हैं। दीवाली आने दीजिए और खुशखबरी की प्र​तीक्षा कीजिए।

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय। फोटो- Express photo by Vishal Srivastav.

यूपी के भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडेय ने शुक्रवार (2 नवंबर) को बड़ा बयान दिया है। महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री के साथ ही संत भी हैं। अयोध्या के लिए उनके मन में निश्चित रूप से कई योजनाएं हैं। दिवाली आने दीजिए और खुशखबरी की प्र​तीक्षा कीजिए। महेंद्र नाथ पांडेय ने ये बातें अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के संबंध में पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए कहीं।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा,” योगी जी मुख्यमंत्री के साथ-साथ बहुत बड़े संत हैं। निश्चित रूप से उन्होंने अयोध्या के लिए योजना बनाई है। दिवाली आने दीजिए, खुशखबरी की प्रतीक्षा कीजिए। मुख्यमंत्री के हाथों वो योजना सामने आएगी तो उचित होगा।”  बता दें कि सुप्रीम कोर्ट में 29 अक्टूबर को चीफ जस्टिस की अध्यक्षता वाली बेंच ने अयोध्या में भूमि विवाद मामले की सुनवाई जनवरी तक के लिए टाल दी थी। इसके बाद भाजपा और आरएसएस के नेताओं ने ये बयान दिए थे कि सरकार को अध्यादेश लाकर राम मंदिर का निर्माण करवाना चाहिए।

यूपी के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने इससे पहले भी राममंदिर के संबंध में अध्यादेश लाने पर बयान दिया था। सीएम योगी आदित्यनाथ ने 30 अक्टूबर को एक टीवी इंटरव्यू के दौरान कहा था, “यह मामला सुप्रीम कोर्ट में है। कोर्ट में इस पर जल्द सुनवाई होनी चाहिए। न्याय में किसी प्रकार की देरी न हो। हालांकि, विकल्पों की तलाश की जा रही है पर कोर्ट को इसी के साथ आस्था का भी ख्याल रखना चाहिए। देश की न्यायपालिका पर सबको भरोसा है। पर न्याय में देरी होने से निराशा मिल रही है। सभी पक्ष इस मसले का जल्द ले जल्द समाधान चाहते हैं। राम मंदिर निर्माण के लिए जो भी सबसे उत्तम रास्ता हो, उसे अख्तियार किया जाना चाहिए।”

वहीं बुधवार (31 अक्टूबर, 2018) को आरएसएस ने केंद्र से 1994 में उच्चतम न्यायालय में तत्कालीन कांग्रेस सरकार द्वारा किये गए वादों को पूरा करने का अनुरोध किया था। संघ ने कहा कि तत्कालीन कांग्रेस सरकार इस बात पर सहमत हो गयी थी कि यदि बाबरी मस्जिद बनाने से पहले वहां मंदिर होने के साक्ष्य पाये गये तो वह हिन्दू समुदाय का साथ देगी।

आरएसएस के सह सरकार्यवाह मनमोहन वैद्य ने संवाददाताओं से कहा कि उत्तरप्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर बनाने का मुद्दा हिंदू और मुस्लिम समुदाय तक ही सीमित नहीं है। वैद्य ने बुधवार को केंद्र सरकार से राम मंदिर के लिए या तो कानून बनाने या फिर अध्यादेश लाकर तेजी से उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण शुरू करने की अपनी बात दोहराई। मनमोहन वैद्य भयंदर में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत द्वारा रामभाऊ म्हालगी प्रबोधिनी में संगठन की अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल बैठक का शुभारंभ करने के बाद वैद्य ने मीडिया को संबोधित कर रहे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App