ताज़ा खबर
 

बापू और अब्बा को भी जगह मिली आॅक्सफर्ड डिक्शनरी में

किसी कठिन शब्द का अर्थ ढूंढते हुए यदि आॅक्सफर्ड डिक्शनरी में आपको ‘अच्छा !’, ‘बापू’, ‘बड़ा दिन’, ‘अब्बा’, ‘बच्चा’ और ‘सूर्य नमस्कार’ जैसे हिंदी शब्द दिख जाएं तो हैरान होने की जरूरत नहीं।

Author नई दिल्ली | Published on: October 29, 2017 12:16 AM

किसी कठिन शब्द का अर्थ ढूंढते हुए यदि आॅक्सफर्ड डिक्शनरी में आपको ‘अच्छा !’, ‘बापू’, ‘बड़ा दिन’, ‘अब्बा’, ‘बच्चा’ और ‘सूर्य नमस्कार’ जैसे हिंदी शब्द दिख जाएं तो हैरान होने की जरूरत नहीं। इस बार शब्दकोश को अद्यतन करते समय जो 70 नए शब्द जोड़े गए हैं, यह उनकी जरा-सी बानगी है। यह अपने आप में दिलचस्प है कि कुछ शब्द दो भाषाओं के संयोग से बने हैं। इस बार भी आॅक्सफर्ड इंग्लिश डिक्शनरी में हिंदी के कई शब्द शामिल किए गए हैं। डिक्शनरी में ‘अच्छा’ और ‘अन्ना’ शब्द को भी शामिल किया गया है। हाल ही में डिक्शनरी को अद्यतन करते हुए तेलुगु, उर्दू, तमिल, हिंदी और गुजराती के 70 और भारतीय भाषाओं के कुछ अन्य शब्द शामिल किए गए हैं।

आॅक्सफर्ड इंग्लिश डिक्शनरी (ओईडी) में कुछ ऐसे शब्द भी शामिल किए गए हैं, जो हिंदी, मराठी, बंगाली, पंजाबी, तमिल, तेलुगू या उर्दू से मिलकर बने हैं।
आॅक्सफर्ड इंग्लिश डिक्शनरी की विश्व अंग्रेजी संपादक डेनिका सालाजार द्वारा इस संदर्भ में लिखे गए लेख बाकी पेज 8 पर उङ्मल्ल३्र४ी ३ङ्म स्रँी 8
के अनुसार उदाहरण के लिए उर्दू के ‘नमकीन’ का इस्तेमाल हिंदी में भी समान रूप से किया जाता है, जबकि ‘मिर्च-मसाला’ का व्यापक प्रयोग मसालों के पाउडर अथवा मिश्रण के लिए होता है। हालांकि हिंदी में मिर्च और कालीमिर्च दो अलग-अलग मसाले हैं। इसमें ‘मिर्च’ शब्द हिंदी से लिया गया है, जबकि ‘मसाला’ उर्दू भाषा से आया है।

उन्होंने कहा कि नए शामिल किए शब्द पूरी तरह से भारतीय नहीं हैं, बल्कि ये नये शब्द ‘भारतीय-नुमा’ हैं। जैसे अंग्रेज यहां से जाते समय एक व्यंजन ‘टिक्का-मसाला’ अपने साथ ले गए। आमतौर पर यह भुने हुये मांस का मसालेदार टुकड़ा होता है, लेकिन अब यह शब्द ब्रिटेन के दक्षिण भारतीय रेस्त्रां में भी पर्याप्त रूप से प्रचलन में आ गया है। इसी प्रकार उर्दू का शब्द ‘दादागिरी’ भी हिंदी के संयोजन से बनाया गया है। हालांकि हिंदी में दादा रिश्ते-नाते के संदर्भ में प्रयुक्त होता है, लेकिन इसके साथ ‘गिरी’ जोड़ देने से यह ‘गुंडा’ या ‘गिरोह के सरगना’ का अर्थ ध्वनित करता है।  डिक्शनरी में हिंदी के शामिल नए शब्दों में, ‘अच्छा !’, ‘बापू’ ‘बड़ा दिन’, ‘बच्चा’ और ‘सूर्य नमस्कार’ जैसे शब्द हैं। वहीं अब उर्दू का ‘अब्बा’ शब्द भी डिक्शनरी में शामिल हो गया है। भारतीय भाषाओं के ये नए 70 शब्द संस्कृति, खाने-पीने या रिश्ते-नातों से लिए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि हिंदी का ‘अच्छा’ शब्द भी पहले से शब्दकोश में है, लेकिन ये ओके (ओकेएवाई) को हिंदी में ‘अच्छा’ बताने वाला शब्द है। इसे नए शामिल किए गए ‘अच्छा !’ शब्द का अर्थ ‘आश्चर्य’ अथवा ‘खुशी’ के इजहार में प्रयुक्त होने वाला बताया गया है। इसी प्रकार ‘अन्ना’ पहले से ही इसमें एक संज्ञा (नाउन) के रूप में डिक्शनरी में शामिल था, जो तमिल और तेलुगु में बड़े भाई को संबाधित करने के लिए प्रयोग होता है। अब शामिल किया गया शब्द दरअसल ‘आना’ है, जिसका मतलब उस मुद्रा से है, जो किसी समय भारत और पाकिस्तान में वस्तु-विनियम के लिए प्रचलन में थी। यह भारतीय मुद्रा रुपऐ की एक छोटी इकाई है। एक रुपये में 16 आना होते हैं।

डेनिका ने कहा, ‘डिक्शनरी में पहले ही भारतीय भाषाओं के 900 शब्द हैं, अब इसमें 70 नए शब्दों को और जोड़ा गया है।’ सालाजार ने इसमें कहा, ‘भारतीय भाषाओं में रिश्ते-नातों की परिभाषा बहुत जटिल होती है। इसमें उम्र, लिंग, परिवार, हैसियत को देखते हुए अलग-अलग अर्थ हो सकते हैं। रिश्ते-नाते के ऐसे शब्दों के लिए इंग्लिश में कोई विकल्प नहीं है, इसलिए इंग्लिश में इसके इस्तेमाल के लिए हमें हिंदी से इन शब्दों को उधार लेना पड़ता है। उल्लेखनीय है कि डिक्शनरी को साल भर में चार बार, मार्च, जून, सितंबर और दिसंबर में अपडेट किया जाता है।

भारतीय रिश्तों का अंग्रेजी में विकल्प नहीं
डिक्शनरी में पहले ही भारतीय भाषाओं के 900 शब्द हैं, अब इसमें 70 नए शब्दों को और जोड़ा गया है। भारतीय भाषाओं में रिश्ते-नातों की परिभाषा बहुत जटिल होती है। इसमें उम्र, लिंग, परिवार, हैसियत को देखते हुए अलग-अलग अर्थ हो सकते हैं। रिश्ते-नाते के ऐसे शब्दों के लिए इंग्लिश में कोई विकल्प नहीं है, इसलिए इंग्लिश में इसके इस्तेमाल के लिए हमें हिंदी से इन शब्दों को उधार लेना पड़ता है…
– डेनिका सालाजार,
विश्व अंग्रेजी संपादक, आॅक्सफर्ड इंग्लिश डिक्शनरी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories