ताज़ा खबर
 

दावा करता हूं कि आप दोनों बेड नहीं दिला पाएंगे- BJP, Congress नेताओं से जब कहने लगे एंकर

एंकर सईद अंसारी ने नेताओं के बयान पर चुटकी लेते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि देश में सब कुछ अच्छा अच्छा चल रहा है। हर चीज दुरुस्त है। देश में कहीं कोई कमी नहीं है। हेल्थकेयर सिस्टम पूरी तरह से चाकचौबंद है। लेकिन जमीन के हालात देखे जाए तो स्थिति बिलकुल उलट है।

aajtak, debate, coronaडीआरडीओ में बनाए गए एसवीओपी अस्पताल का दृश्य (फोटोः ट्विटर@6711Anumit)

आजतक के डिबेट शो में उस वक्त बीजेपी और कांग्रेस के नेता अपना मुंह चुराने लगे जब एंकर ने उन्हें आड़े हाथ लेकर कहा कि आप लोग बड़ी-बड़ी पार्टियों से ताल्लुक रखते हैं, लेकिन अगर कोई संक्रमित आपसे बेड दिलाने के लिए कहे तो आपसे नहीं हो पाएगा। उनके इस सवाल ने डिबेट में मौजूद सारे नेताओं के मुंह पर ताला लगा दिया। किसी के पास कोई जवाब नहीं था।

एंकर सईद अंसारी ने बीजेपी नेता संबित पात्रा के बयान पर चुटकी लेते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि देश में सब कुछ अच्छा अच्छा चल रहा है। हर चीज दुरुस्त है। देश में कहीं कोई कमी नहीं है। हेल्थकेयर सिस्टम पूरी तरह से चाकचौबंद है। लेकिन जमीन के हालात देखे जाए तो स्थिति बिलकुल उलट है। एंकर ने कांग्रेस प्रवक्ता डॉ. अजॉय कुमार और तृणमूल प्रवक्ता रिजु दत्ता को भी जमकर आड़े हाथ लिया।

डिबेट में आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता संजीव भी मौजूद थे। एंकर ने उनसे पूछा कि आपकी पार्टी रैन बसेरे बनाने के साथ फ्री बिजली देने का काम कर रही है। मोहल्ला क्लीनिक बनाने के साथ गरीबों के दुख दर्द बांटने की बात भी केजरीवाल करते हैं, लेकिन जैसे ही कोरोना संकट आया केजरीवाल केंद्र से मदद मांगने लग गए।

एंकर ने दिल्ली के लॉकडाउन को लेकर भी दिल्ली सीएम पर तंज कसा। उनका कहना था कि पहले बोल रहे थे कि लॉकडाउन की जरूरत नहीं है और अब पैंतरा बदलकर दिल्ली को लॉक कर दिया। क्या उन्हें पहले से अंदेशा नहीं था कि स्थिति विकराल होने जा रही है। एक दिन में 25 हजार संक्रमण सामने आ रहे हैं।

आप प्रवक्ता का कहना था कि कोविड की चौथी लहर की मार बहुत ज्यादा दिख रही है, लेकिन उसके बाद भी दिल्ली के किसी अस्पताल में मरीजों की भीड़ नहीं दिख रही है। उनका कहना था कि केजरीवाल देश के अकेले ऐसे सीएम हैं जो लगातार स्थिति पर नजर रख रहे हैं। उनका कहना था कि लॉकडाउन से बीमारी खत्म तो नहीं होगी लेकिन इससे सरकार को कुछ मौका मिल जाएगा।

एंकर का उनसे सवाल था कि क्या लॉकडाउन से हालात ठीक हो जाएंगे। क्या गारंटी है कि यह आगे नहीं बढ़ेगा। प्रोग्राम के आखिर में भी एंकर ने कटाक्ष करते हुए कहा कि चारों दलों बीजेपी, कांग्रेस, टीएमसी और आप के प्रवक्ता के पास बेहतरीन प्लान तो हैं लेकिन जमीन के हालात देखे जाए तो लगता नहीं कि ये काम करेंगे?

Next Stories
1 जियो जांबाज! रेल ट्रैक पर बच्चे को जान पर खेल बचाया इस कर्मी ने, VIDEO हो रहा वायरल
2 राहुल गांधी को हुआ कोरोना, बोले- आ रहे हल्के लक्षण; पत्नी के संक्रमित होने बाद केजरीवाल भी आइसोलेट
3 खुद को भारतीय मानते हैं?- पुण्य प्रसून वाजपेयी के सवाल पर चिल्लाने लगे थे फारूख अब्दुल्ला, देखें- कैसे लगा दी थी फटकार
यह पढ़ा क्या?
X