ताज़ा खबर
 

दिल्ली में 6 दिनों में तीन गुनी हो जाएगी कोरोना टेस्टिंग, हर पोलिंग बूथ पर होगी जांच, गृह मंत्री अमित शाह ने किया ऐलान

अमित शाह ने कहा कि कोरोना वायरस की सही जानकारी और गाइडलाइंस दिल्ली के छोटे अस्पतालों को देने के लिए मोदी सरकार ने एम्स में वरिष्ठ डॉक्टरों की एक कमेटी बनाने का फैसला किया है।

amit shah, arvind kejriwal, delhi coronavirus casesअमित शाह ने कहा है कि दिल्ली में जल्द ही टेस्टिंग की संख्या बढ़ायी जाएगी। (फाइल फोटो)

दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच आज केन्द्रीय मंत्री अमित शाह ने ऐलान किया है कि दिल्ली में कोरोना मरीजों के लिए बेड की कमी को देखते हुए 500 रेलवे कोच की सुविधा दी जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने ने दिल्ली में टेस्टिंग की संख्या बढ़ाने की भी बात कही है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने आज केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात की थी। इस मुलाकात के दौरान केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन भी मौजूद रहे। इस मीटिंग के बाद ही अमित शाह ने ट्वीट कर उक्त जानकारी दी है।

अमित शाह ने कहा कि कोरोना वायरस की सही जानकारी और गाइडलाइंस दिल्ली के छोटे अस्पतालों को देने के लिए मोदी सरकार ने एम्स में वरिष्ठ डॉक्टरों की एक कमेटी बनाने का फैसला किया है। यह कमेटी टेलीफोन द्वारा अस्पतालों को गाइडलाइंस की जानकारी देगी। इसके लिए हेल्पलाइन नंबर कर जारी किया जाएगा।

केन्द्रीय गृह मंत्री ने ये भी कहा कि कुछ दिनों में ही दिल्ली के हर कंटेनमेंट जोन के हर पोलिंग स्टेशन पर कोरोना की जांच की सुविधा दी जाएगी। बता दें कि दिल्ली में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। दिल्ली में फिलहाल कोरोना मरीजों का आकंड़ा 38 हजार के पार चला गया है। हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने भी दिल्ली और कई अन्य राज्यों को कोरोना माहमारी से सही तरीके से नहीं निपटने और मरीजों के इलाज की सही व्यवस्था नहीं करने पर फटकार भी लगायी है।

दिल्ली में अब कंटेनमेंट जोन्स में कॉन्टैक्ट मैपिंग करायी जाएगी और इसके लिए घर-घर जाकर सर्वे किया जाएगा। इसकी रिपोर्ट एक हफ्ते में आने की बात कही जा रही है। साथ ही सभी लोगों को आरोग्य सेतु एप भी डाउनलोड करने की अपील की गई है।

अमित शाह ने बताया कि दिल्ली में आने वाले कुछ दिनों में कोरोना टेस्टिंग की संख्या दोगुनी की जाएगी और 6 दिन में यह तीन गुनी तक बढ़ा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार दिल्ली में कोरोना संक्रमण फैलने से रोकने के लिए समर्पित है और आज की बैठक में कई अहम फैसले लिये गए हैं। अमित शाह के साथ बैठक में सीएम केजरीवाल, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के अलावा एलजी अनिल बैजल और कई वरिष्ठ अधिकारी भी शामिल हुए।

दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने हाल ही में अपने एक बयान में कहा था कि यदि दिल्ली में इसी तरह कोरोना संक्रमण फैलता रहा तो जुलाई के अंत में दिल्ली में कोरोना के 5.5 लाख केस हो सकते हैं। साथ ही उस वक्त दिल्ली में 80 हजार बेड की जरुरत होगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 कोरोना काल में अस्पतालों का हालः ऑक्सीजन पर 45 मिनट तक 80 साल की बुजुर्ग को एंबुलेंस में कराया इंतजार, फिर अस्पताल ने भर्ती करने से कर दिया इन्कार
राशिफल
X