ताज़ा खबर
 

शाह का असम के सीएम पर तीखा वार, कहा- विकास नहीं बल्कि भ्रष्टाचार और अवैध घुसपैठ देखी गई

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को असम के मुख्यमंत्री तरुण गोगोई पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य में कोई विकास नहीं हुआ है।

Author शिबसागर/सोनारी | Published on: March 26, 2016 3:55 AM
बीजेपी अध्यक्ष ने असम के सीएम तरुण गोगोई पर साधा निशाना

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को असम के मुख्यमंत्री तरुण गोगोई पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य में कोई विकास नहीं हुआ है। कांग्रेस के 15 सालों के कार्यकाल में राज्य में केवल भ्रष्टाचार और अवैध घुसपैठ देखी गई।
शिबसागर और सोनारी में चुनावी सभाओं को संबोधित करते हुए शाह ने वादा किया कि भाजपा यदि सत्ता में आई तो राज्य को भ्रष्टाचार मुक्त सरकार देकर विकास की राह पर ले जाएगी और बांग्लादेश से अवैध घुसपैठ पर रोक लगाएगी। शाह ने दावा किया कि असम में भ्रष्टाचार चरम पर है।

सड़कों के विकास, बिजली आपूर्ति, अच्छे अस्पतालों के निर्माण पर कोई धन खर्च नहीं किया जा रहा। उन्होंने कहा कि विकास के लिए भेजा गया धन मंत्रियों के घर में मिलेगा। उन्होंने राज्य में गरीबी रेखा से नीचे रह रहे लोगों के लिए, 42 फीसद लोगों को साफ पीने का पानी नहीं मिलने, आदिवासी चाय बागान कर्मियों के लिए बिजली, उचित सुविधाएं नहीं होने, मां और शिशु मृत्यु दर बढ़ने और महिलाओं पर अत्याचार की 19000 घटनाओं के लिए कांग्रेस नीत सरकार को जिम्मेदार ठहराया।

शाह ने दावा किया कि केंद्र सरकार ने कई विकास योजनाओं के लिए धन दिया था लेकिन जब गोगोई से परियोजनाओं के पूरे होने का प्रमाणपत्र मांगा गया तो उन्होंने नहीं दिया। इसलिए असम में विकास रुका हुआ है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि गोगोई ऐसी सरकार नहीं दे सकते जो गरीबों की मदद करे। केवल भाजपा यह कर सकती है। असम की जनता ने उन्हें 15 साल दिए। लेकिन असम वहीं का वहीं रहा जहां पहले था बल्कि और पीछे चला गया जबकि बाकी देश ने तरक्की की।

शाह ने कहा, ‘आप तरुण गोगोई से पूछिए कि उन्होंने यहां सत्ता में रहते हुए पिछले 15 साल में असम के लिए क्या किया। उन्होंने असम से एक प्रधानमंत्री को 10 साल के लिए राज्यसभा में भेजा। उन्होंने रेलवे लाइन को दोहरा करने के लिए क्या किया? कुछ नहीं। उन्होंने केवल बातें की और अभूतपूर्व भ्रष्टाचार हुआ।’

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा और विकास एक दूसरे के पर्याय हो गए हैं। जहां भाजपा और राजग की सरकार है, वहां विकास है। इस बाबत शाह ने गुजरात, मध्य प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान, महाराष्ट्र और गोवा जैसे राज्यों के नाम लिए। शाह ने दावा किया कि इन राज्यों में हरेक गांव में अस्पताल और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बनाए गए। प्रत्येक घर में साफ पीने का पानी और बिजली की व्यवस्था की गई और हरेक तहसील में उच्च माध्यमिक विज्ञान स्कूल खोले गए।

उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री बनते ही असम के लिए काम शुरू कर दिया था। शाह ने कहा कि असम में बाढ़ नियंत्रण के लिए वैज्ञानिक योजना तैयार की गई। रेलवे लाइनों को दोहरा करने के लिए योजना चल रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के 55 साल के शासन में असम कभी सुरक्षित नहीं रहा। उसकी सीमा बांग्लादेश के लाखों घुसपैठियों के लिए सड़क की तरह खोल दी गई, जिससे असम के युवाओं से रोजगार छीने जा सकें। शाह ने लोगों से अपील की कि असम में राजग सरकार बनाएं और घुसपैठ को शत प्रति रुकवाएं। भाजपा अध्यक्ष ने केंद्र सरकार की कई योजनाएं भी गिनाईं।

शाह ने कहा कि असम में तेल और खनिज संसाधनों के बड़े भंडार हैं और इसके देश में सर्वाधिक अमीर राज्य होने की क्षमता है। उन्होंने अफसोस जताते हुए कहा कि आजादी के वक्त सबसे विकसित राज्यों में चौथे स्थान पर रहा असम आज नीचे से चौथे स्थान पर है।
शाह ने मतदाताओं से कहा कि असम गण परिषद और बोडो पीपुल्स फ्रंट की मदद से सर्वानंद सोनोवाल की अगुआई में असम को सबसे अमीर राज्य बनाएंगे। यह चुनाव विधायक चुनने का नहीं बल्कि असम के भविष्य पर फैसला करने का है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि केवल नरेंद्र मोदी और सर्वानंद असम में विकास और खुशी ला सकते हैं, तरुण गोगोई नहीं। बदलाव के लिए वोट दीजिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories