बीजेपी मुख्‍यालय का हाल: इधर केंद्रीय मंत्री कराते हैं लंच, उधर शाह बुला लेते हैं प्रेस कॉन्‍फ्रेंस

शुक्रवार को केन्द्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संसद के शीतकालीन सत्र की शुरुआत के उपलक्ष्य में लंच का आयोजन किया तो एक बार फिर अमित शाह ने रफाल डील पर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर एक बार फिर से प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन कर दिया।

amit shah
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह।

भाजपा मुख्यालय में इन दिनों काफी गहमा-गहमी का माहौल है। मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ का चुनाव हो या फिर शुक्रवार को रफाल डील पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला, भाजपा की तरफ से कई बार प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आयोजित कर मीडिया के सामने पार्टी का पक्ष रखा जा रहा है। मजे की बात ये है कि जब भी किसी केन्द्रीय मंत्री द्वारा खाने का कार्यक्रम आयोजित किया जाता है, तभी भाजपा अध्यक्ष अमित शाह भाजपा मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन कर दिया जाता है। बीते शुक्रवार केन्द्रीय मंत्री विजय गोयल ने एक लंच कार्यक्रम का आयोजन किया था, लेकिन तभी अमित शाह ने बंगाल में ममता सरकार द्वारा रथयात्रा की इजाजत नहीं दिए जाने पर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन कर दिया था।

इस शुक्रवार को केन्द्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने संसद के शीतकालीन सत्र की शुरुआत के उपलक्ष्य में लंच का आयोजन किया तो एक बार फिर अमित शाह ने रफाल डील पर आए सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर एक बार फिर से प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन कर दिया। हाल ही में भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी ने भी एक कार्यक्रम का आयोजन किया था, लेकिन उसी वक्त भाजपा के तीन केन्द्रीय मंत्रियों ने मीडिया को भाजपा ऑफिस बुला लिया, वो भी सिर्फ औपचारिक बातचीत के लिए।

बहरहाल हिंदीपट्टी के अपने मजबूत गढ़ मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में हार के साथ ही भाजपा में आत्ममंथन का दौर शुरु हो गया है। हालांकि पार्टी द्वारा विनम्रता से अपनी हार स्वीकार करने की बात कही जा रही है, लेकिन अंदरुनी तौर पर पार्टी में इस हार पर चर्चाएं तेज हो गई हैं। माना जा रहा है कि आगामी लोकसभा चुनावों को देखते हुए भाजपा अपनी रणनीति में कुछ बदलाव कर सकती है। इसके लिए किसानों और युवाओं को ध्यान में रखते हुए केन्द्र सरकार कुछ बड़े ऐलान भी कर सकती है।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।