ताज़ा खबर
 

संघ प्रमुख भागवत बोले- बिहार में कम्‍युनल कैंपेन की वजह से हारी बीजेपी

बिहार चुनाव में मिली शर्मनाक हार के बाद आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने बीजेपी को कम्‍युनल कैंपेन से बचने की सलाह दी है।

नरेंद्र मोदी, भाजपा, बीजेपी, अमित शाह, आरएसएस चीफ, बिहार चुनाव, बीजेपी की हार, narendra modi, BJP president, Amit Shah, RSS chief, Mohan Bhagwat, Bihar assembly elections, Bihar results, bihar election results, bihar polls, hindi news, news in hindi, latest news  भागवत के साथ हुई बैठक में अमित शाह ने हार का सबसे प्रमुख कारण महागठबंधन की सोशल इंजीनियरिंग को बताया।

बिहार चुनाव में मिली शर्मनाक हार के बाद आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने बीजेपी को कम्‍युनल कैंपेन से बचने की सलाह दी है। पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह के साथ मुलाकात के दौरान संघ प्रमुख ने कहा कि चुनाव प्रचार में ज्‍यादा शोर-शराबा ठीक नहीं है। हमें इस रणनीति को बदलना होगा। हालांकि, भागवत ने शाह को खुले तौर पर समर्थन भी दिया है। सूत्रों के मुताबिक, सरसंघचालक ने यह कहा कि बिहार चुनाव में हार का अमित शाह की क्षमता से कोई लेना-देना नहीं है। इस अहम बैठक में संघ वरिष्‍ठ नेता कृष्‍ण गोपाल भी मौजूद थे।

जानकारी के मुताबिक, भागवत के साथ हुई बैठक में अमित शाह ने हार का सबसे प्रमुख कारण महागठबंधन की सोशल इंजीनियरिंग को बताया। उन्‍होंने पश्चिम बंगाल, असम, पंजाब और तमिलनाडु में होने वाले चुनावों के बारे में भागवत से बात की। इस संबंध में भागवत ने सलाह दी कि आगामी विधानसभा चुनावों में कैंपेन के दौरान पार्टी को ध्रुवीकरण से बचना होगा। इससे पहले वित्‍त मंत्री अरुण जेटली भी बिहार में हार के पीछे महागठबंधन की सोशल इंजीनियरिंग को बड़ा कारण बता चुके हैं। सोमवार को हुई पार्लियामेंट्री बोर्ड की मीटिंग के बाद प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के दौरान उन्‍होंने यह भी माना था कि विकास के मुद्दे से इतर जो बयानबाजी हुई, उससे पार्टी को काफी नुकसान उठाना पड़ा। इसके अलावा जेडीयू-आरजेडी-कांग्रेस के बीच वोट ट्रांसफेवरेबिलिटी को भी उन्‍होंने उम्‍मीद से बेहतर बताया था।

बिहार चुनाव में हार के बाद हिमाचल प्रदेश के पूर्व सीएम और मौजूदा बीजेपी सांसद शांता कुमार और शत्रुघ्‍न सिन्‍हा ने अमित शाह पर यह कहते हुए निशाना साधा था कि इसकी जिम्‍मेदारी शीर्ष नेतृत्‍व को लेना पड़ेगी। इन के अलावा अरुण शौरी ने भी हार के लिए अमित शाह, नरेंद्र मोदी और अरुण जेटली को जिम्‍मेदार ठहराया था। बहरहाल, संघ प्रमुख का समर्थन मिलने के बाद अमित शाह को राहत जरूर मिली होगी। वैसे भागवत का समर्थन मिलने के बाद शाह को लेकर बीजेपी के शीर्ष नेताओं का भी रुख बदला है। बीजेपी के एक वरिष्‍ठ नेता ने कहा कि हार की जिम्‍मेदारी अकेले शाह के कंधों पर डालने की बात को गलत बता रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि पार्टी अध्‍यक्ष बनने के बाद उनका चुनावी ट्रैक रिकॉर्ड बेहद शानदार रहा है। उनकी लीडरशिप में बीजेपी ने हरियाणा, जम्‍मू-कश्‍मीर और महाराष्‍ट्र में अप्रत्‍याशित सफलता हासिल की है।

Read Also:

टीपू सुल्तान हिंदू होते तो उनका कद शिवाजी की तरह होता: गिरिश कर्नाड

प्रवीण तोगड़िया की मांग- धार्मिक असहिष्‍णुता से हिंदुओं की रक्षा करे मोदी सरकार

टीपू सुल्‍तान की जयंती पर भिड़े हिंदू-मुस्लिम, वीएचपी कार्यकर्ता की मौत

इखलाक का बेटा बोला- बिहार चुनाव में BJP की हार मेरे पिता को देश की श्रद्धांजलि

जामा मस्जिद के शाही इमाम के बेटे ने हिंदू लड़की से की शादी: रिपोर्ट

Lokniti-CSDS Survey: जानिए, लालू को कैसे हो गया नीतीश से ज्‍यादा फायदा

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 हार पर मंथन शुरू, पर इन 4 सवालों का जवाब नहीं खोजा तो खतरे में पड़ेगी भाजपा
2 हार पर पाकिस्‍तानी अखबारों का वार, लिखा- बिहार वाले ले गए मोदी के पटाखे
3 मजाक उड़ा तो एग्जिट पोल में NDA को 155 सीटें देने वाले Chanakya ने मांगी माफी
यह पढ़ा क्या?
X