amit shah focus west bengal politics to counter mamata banerjee tmc - ममता बनर्जी के गढ़ में सेंध लगाने के लिए बीजेपी ने बनाया 'प्‍लान', अमित शाह खुद संभालेंगे कमान - Jansatta
ताज़ा खबर
 

ममता बनर्जी के गढ़ में सेंध लगाने के लिए बीजेपी ने बनाया ‘प्‍लान’, अमित शाह खुद संभालेंगे कमान

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि राज्य का विकास होगा तो युवाओं को नौकरी मिलेगी और नौकरी मिलने पर युवा उस रास्ते पर नहीं जाएंगे, जिस पर वह लेफ्ट के राज के समय में चले गए हैं।

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह। (फोटोः ANI)

भाजपा पश्चिम बंगाल में लगातार अपनी पकड़ बनाने के लिए प्रयासरत है। यही वजह है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह खुद पश्चिम बंगाल पर खास ध्यान दे रहे हैं। अब खबर आयी है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह हर माह राज्य का दौरा करेंगे और राज्य की 22 सीटों पर उनकी निगाह है। एबीपी ग्रुप के अखबार आनंद बाजार पत्रिका के साथ बातचीत में अमित शाह ने खुद इन बातों का खुलासा किया है। शाह ने कहा कि वह हर महीनें राज्य में तीन दिनों तक रहेंगे और इसके लिए कोलकाता में किराए पर कमरा भी लेने की सोच रहे हैं। अमित शाह ने कहा कि राज्य का विकास नहीं हुआ है और वो राज्य के विकास करके लोगों के प्रति अपना प्यार जाहिर करेंगे।

पश्चिम बंगाल में भाजपा का वोट प्रतिशत बढ़ाने के सवाल पर अमित शाह ने कहा कि किसी ने नहीं सोचा था कि त्रिपुरा में भाजपा की सरकार बनेगी, लेकिन पार्टी ने ये राज्य भी जीत लिया। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि राज्य का विकास होगा तो युवाओं को नौकरी मिलेगी और नौकरी मिलने पर युवा उस रास्ते पर नहीं जाएंगे, जिस पर वह लेफ्ट के राज के समय में चले गए हैं। अपनी रणनीति का खुलासा करते हुए अमित शाह ने कहा कि उनकी पार्टी राज्य में मिस कॉल के जरिए मेंबरशिप देने का अभियान चला रही है। जिसका मकसद हर बूथ तक भाजपा की पहुंच बनाना है।

अमित शाह ने आगे कहा कि पश्चिम बंगाल के लोग परेशान हैं और सूबे का बहुसंख्यक भाजपा के साथ है। हाल ही में पश्चिम बंगाल में हुए पंचायत चुनावों में भाजपा दूसरे नंबर की पार्टी बनकर उभरी थी। इस पर अमित शाह ने कहा कि उनकी पार्टी को राज्य में नंबर वन बनना है। उल्लेखनीय है कि फिलहाल भाजपा और टीएमसी असम के एनआरसी के मुद्दे पर आमने-सामने हैं। ममता बनर्जी ने जहां एनआरसी के मुद्दे पर गृहयुद्ध होने की बात कही थी। वहीं भाजपा ने टीएमसी पर वोटबैंक की राजनीति करने का आरोप लगाया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App