ताज़ा खबर
 

UPNS चीफ का दावा- कन्हैया, उमर की हत्‍या के लिए मंगा लिए हथियार, 10 लोग कर रहे मौके का इंतजार

जानी ने दावा किया है कि जेएनयू कैंपस में उन्होंने हथियार पहुंचा दिए हैं और उनकी पार्टी के 10 कार्यकर्ता कन्हैया कुमार और उमर खालिद को मारने के लिए सही वक्त का इतंजार कर रहे है।

Author नई दिल्ली | April 1, 2016 4:46 PM
2012 में जानी ने बसपा सुप्रिमों मायावती की मूर्ति का सर काट दिया था।( PIC SOURCE-FACEBOOK)

उत्तर प्रदेश नवनिर्माण सेना के नेता अमित जानी जो कुछ दिनों पहले जेएनयू छात्र नेता कन्हैया कुमार को 31 मार्च से पहले जेएनयू कैंपस खाली नहीं करने पर गोली मारने की धमकी दे चुके हैं। उन्होंने दावा किया है कि जेएनयू कैंपस में उन्होंने हथियार पहुंचा दिए हैं और उनकी पार्टी के 10 कार्यकर्ता कन्हैया कुमार और उमर खालिद को मारने के लिए सही वक्त का इतंजार कर रहे है। उन्होंने कहा कि नवरात्रों के दौरान उनके कार्यकर्ता दोनों छात्र नेता को शिकार बना सकते हैं।

 

दो शब्द #कन्हैया के लिए!#Whatsapp 9760000004

Posted by Amit Jani on Thursday, March 10, 2016

 

पिछले हफ्ते जानी ने फेसबुक पर एक वीडियो अपलोड किया था जिसमें उन्होंने कन्हैया और उमर को धमकी दी थी कि 31 मार्च से पहले दिल्ली छोड़ने के लिए कहा था और ऐसा नहीं करने पर गोली मारने की धमकी दी थी। उन्होंने कहा कि अब उनकी दी हुई मोहलत खत्म हो गई है। जानी की इस पोस्ट को 2000 से ज्यादा लाइक मिले थे। कन्हैया द्वावा सेना को लेकर दिए गए विवादास्पद बयान के बाद से ही जानी उनसे खासे नाराज चल रहे हैं।

जानी ने कहा कि, ” मोहलत खत्म होने पर गुरुवार को मेरे पार्टी कार्यकर्ताओं ने मुझसे पूछा हमें अब क्या करना है। मैंने क्हा कि हम वो ही करेंगे जो हमने कहा था। मेरे लड़के हास्टल में हथियारों के साथ इंतजार कर रहे हैं।”

जानी इससे पहले भी सुर्खयों में रहे हैं। 2012 में जानी ने बसपा सुप्रिमों मायावती की मूर्ति का सर काट दिया था। इससे पहले 2009 में जानी ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की सभा में हंगामा किया था साथ ही जानी शिवसेना के कार्यालय पर भी हल्ला बोल चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App