ताज़ा खबर
 

कोरोना के बीच मुंबई पर कुदरत का कहर! 110Km प्रति घंटे की रफ्तार संग ‘निसर्ग’ ले उड़ा घरों की छत, गिरे पेड़; एयरपोर्ट पर फिसला कार्गो प्लेन

बुधवार को तूफान निसर्ग महाराष्ट्र के तटीय इलाके अलीबाग में पहुंचा जिसके चलते यहां 110 किलोमीटर प्रति घंटे से अधिक गति से हवाएं चली और तेज बारिश भी हुई।

Cyclone Nisarga, Mumbai,तेज बारिश और हवा के चलते कई पेड़ तथा बिजली के खंभे धराशायी हो गए। (फोटो-PTI)

कोरोना संकट के बीच महाराष्ट्र को चक्रवाती तूफान ‘निसर्ग’ जैसी चुनौती का भी सामना करना पड़ रहा है। बुधवार को तूफान निसर्ग महाराष्ट्र के तटीय इलाके अलीबाग में पहुंचा जिसके चलते  यहां 110 किलोमीटर प्रति घंटे से अधिक गति से हवाएं चली और तेज बारिश भी हुई। इस दौरान कई पेड़ तथा बिजली के खंभे धराशायी हो गए हैं। इतना ही नहीं, तूफान के बीच एक कार्गो विमान एयरपोर्ट पर फिसल गया। इसके बाद विमान को रनवे से हटाया गया।यह कार्गो प्लेन बेंगलुरु से आया था।

जिला कलेक्टर निधि चौधरी ने कहा कि चक्रवात से रायगढ़ से 87 किलोमीटर दूर श्रीवर्धन क्षेत्र प्रभावित हुआ है।कलेक्टर ने कहा, ‘‘तेज हवाओं से श्रीवर्धन और अलीबाग में कई पेड़ और बिजली के खंभे गिर गए हैं।’’ उन्होंने कहा कि अभी तक 13,541 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा चुका है। उन्होंने कहा, ‘‘हमने (रायगढ़ में) तटीय क्षेत्र के पास के पांच किलोमीटर के दायरे में आने वाले 62 गांवों की पहचान की है और वहां अतिरिक्त एहतियात बरत रहे हैं।’’

(फोटो-PTI)

वहीं, न्यूज एजेंसी एएनआई ने ट्विटर पर एक वीडियो साझा किया है। इस वीडियो में महाराष्ट्र के रायगढ़ में एक छत उड़ती नजर आई। रत्नागिरी में भी समुद्र की ऊंची लहरें उठती दिखाई पड़ीं। इसके अलावा निसर्ग चक्रवात के मद्देनजर मुंबई में प्रसिद्ध बांद्रा-वर्ली समुद्रसेतु पर वाहनों की आवाजाही को बुधवार को निलंबित कर दिया गया। पुलिस ने यह जानकारी दी।

(फोटो-PTI)

पुलिस ने ट्वीट किया, ‘‘चक्रवात निसर्ग के मद्देनजर बांद्रा-वर्ली समुद्रसेतु पर किसी भी वाहन की आवाजाही की अनुमति नहीं है।’’ ट्वीट में कहा गया कि मुंबई पुलिस चक्रवात के कारण किसी भी तरह की क्षति को रोकने के लिए हर सावधानी बरत रही है। मुंबई में चक्रवात ‘निसर्ग’ के मद्देनजर पहले ही अलर्ट जारी कर दिया गया है।

मुंबई पुलिस ने भी बताया कि दक्षिण मुंबई में कोलाबा, मध्य मुंबई में वरली और दादर तथा पश्चिमी मुंबई में जुहू और वर्सोवा जैसे समुद्र तटों के समीप वाले इलाकों में रहने वाले सैकड़ों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है। उपनगर सांताक्रूज में तेज हवाओं की वजह से एक निर्माणाधीन इमारत का सीमेंट से बना हिस्सा, इससे लगी चाल की झोपड़ियों के ऊपर को गिर गया। इस घटना में एक ही परिवार के तीन सदस्य घायल हो गए।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 लैला के प्‍यार में पागल थे जॉर्ज फर्नांडिस, जिस नीतीश को बनाया उन्‍होंने ही कैसे लगाया किनारा, पढ़िए पूरा किस्सा
2 गुजरातः कैमिकल फैक्ट्री में धमाके के बाद लगी भीषण आग, 5 लोगों की मौत; 40 लोग घायल
3 चक्रवाती तूफानों का कैसे तय होता नाम? कहां से आया निसर्ग और अम्फान, जानिए