ताज़ा खबर
 

कोरोना वायरस संकट के बीच आर्थिक मोर्चे पर मोदी सरकार को झटका, एक लाख करोड़ रुपये से नीचे आया जीएसटी संग्रह

Corona virus: इससे पहले जीएसटी से फरवरी में 1.05 लाख करोड़ रुपये, जनवरी में 1.10 लाख करोड़ रुपये, दिसंबर में 1.03 लाख करोड़ रुपये और नवंबर में 1.03 लाख करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ था।

नई दिल्ली | Updated: April 1, 2020 9:27 PM
मार्च में जीएसटी से महज 97,597 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ।

अर्थव्यवस्था में पहले से ही जारी नरमी के बीच कोरोना वायरस महामारी के कारण कंपनियों का परिचालन ठप होने से मार्च में माल एवं सेवा कर (जीएसटी) संग्रह पिछले चार महीने में पहली बार एक लाख करोड़ रुपये के स्तर से नीचे आ गया। मार्च में जीएसटी से महज 97,597 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ। यह मार्च 2019 के 1.06 लाख करोड़ रुपये की तुलना में 8.4 प्रतिशत कम है।

इससे पहले जीएसटी से फरवरी में 1.05 लाख करोड़ रुपये, जनवरी में 1.10 लाख करोड़ रुपये, दिसंबर में 1.03 लाख करोड़ रुपये और नवंबर में 1.03 लाख करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ था।

मार्च महीने में 76.5 लाख जीएसटी रिटर्न दाखिल किये गये, जबकि फरवरी में 83 लाख रिटर्न दाखिल हुए थे। इससे पता चलता है कि मार्च में जीएसटी के अनुपालन में कमियां रही हैं।

वित्त मंत्रालय ने बुधवार को बयान में कहा, ‘‘मार्च 2020 के कुल 97,597 करोड़ रुपये के जीएसटी संग्रह में से केंद्रीय जीएसटी का हिस्सा 19,183 करोड़ रुपये रहा। इसी तरह राज्य जीएसटी संग्रह 25,601 करोड़ रुपये रहा। एकीकृत जीएसटी संग्रह 44,508 करोड़ रुपये रहा, जिसमें से 18,056 करोड़ रुपये आयात पर लगे शुल्क से मिले।’

सरकार ने नियमित निपटान के तहत एकीकृत जीएसटी से केंद्रीय जीएसटी को 19,718 करोड़ रुपये और राज्य जीएसटी के तहत 14,915 करोड़ रुपये जारी किये। जीएसटी निपटान के बाद मार्च 2020 में केंद्र सरकार और राज्य सरकारों को क्रमश: 41,901 करोड़ रुपये और 43,516 करोड़ रुपये के राजस्व प्राप्त हुए।

मंत्रालय ने कहा कि घरेलू लेनदेन से प्राप्त जीएसटी राजस्व में मार्च में चार प्रतिशत गिरावट आई है। इसमें यदि आयात माल पर लगे जीएसटी को भी शामिल कर लिया जाये तो मार्च 2020 में कुल राजस्व एक साल पहले इसी माह के मुकाबले आठ प्रतिशत कम हुआ है। आयात से प्राप्त जीएसटी राजस्व मार्च में 23 प्रतिशत तथा पूरे वित्त वर्ष में आठ प्रतिशत गिरा है।

Next Stories
1 Corona Virus: घरों में ही मनाएं रामनवमी- वीएचपी की अपील, आर‍िफ खान बोले- देश बचेगा, तभी धर्म बचेगा
2 50 हजार रुपए में वेंटिलेटर बनाने में जुटी दो साल पहले शुरू हुआ यह स्टार्टअप, सात इंजीनियरों ने तैयार किए तीन प्रोटोटाइप, 7 अप्रैल तक पहली मशीन के टेस्टिंग की तैयारी
3 Corona Virus से मारे गए लोगोंं के शव को जलाए जाएं- विश्व हिंदू परिषद की मांग
ये पढ़ा क्या?
X