अमेरिका : लोगों का नौकरियों से मोहभंग

कोरोना महामारी के बाद एक तरफ पूरी दुनिया में बेरोजगारी संकट बढ़ा है, दूसरी ओर अमेरिका में नौकरी छोड़ने वालों की संख्या में अचानक उछाल आया है।

सांकेतिक फोटो।

कोरोना महामारी के बाद एक तरफ पूरी दुनिया में बेरोजगारी संकट बढ़ा है, दूसरी ओर अमेरिका में नौकरी छोड़ने वालों की संख्या में अचानक उछाल आया है। ‘यूएस ब्यूरो आफ लेबर स्टैटिक्स’ के मुताबिक सितंबर में 44 लाख अमेरिकी लोगों ने नौकरी से इस्तीफा दिया है। यह अगस्त माह काबले दो लाख ज्यादा है। अगस्त में 43 लाख लोगों ने नौकरी छोड़ी थी और इसके एक महीने पहले जुलाई में 36 लाख लोगों ने इस्तीफा दिया था। वाशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक नौकरी छोड़ने वाले ज्यादातर लोग होटल-रेस्तरां उद्योग या खुदरा क्षेत्र से जुड़े हैं। कुछ ऐसे भी हैं, जो काफी समय से नौकरी बदलने पर विचार कर रहे हैं। एक कारण यह भी है कि लोग स्टार्टअप की तरफ तेजी से बढ़ रहे हैं। नौकरी छोड़ने वालों में पुरुषों से ज्यादा महिलाओं की संख्या है।

रिपोर्ट के मुताबिक छुट्टियां न मिलने के कारण भी अमेरिकी नागरिक नौकरियां छोड़ रहे हैं। ज्यादातर लोगों ने कहा है कि उन्हें छुट्टी मांगने पर समय पर छुट्टी नहीं मिलती है। एक कारण यह भी कि कोरोना संक्रमण कम होने के बाद अब ज्यादातर कंपनियों ने वर्क फ्राम होम की व्यवस्था खत्म कर दी है। जिन लोगों ने इस दौरान घर पर रहकर काम किया है, उन्हें अब आफिस जाने में परेशानी हो रही है।

इसका सबसे ज्यादा असर उद्योगों पर पड़ा है। लगातार लोगों का नौकरियों से मोहभंग होने के कारण उद्योग-धंधों में काम करने के लिए कुशल कामगार नहीं मिल पा रहे हैं। इससे बड़ी-बड़ी कंपनियों के मालिकों के सामने उद्योग चलाना मुश्किल हो गया है। अन्य एक सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका में कोरोना महामारी ने एकाकी रह रहे लोगों के विचारों को कई मामलों में पूरी तरह बदल दिया है। अब वे शारीरिक आकर्षण के बजाय भावनात्मक और स्थायित्व को ज्यादा तरजीह दे रहे हैं। डेटिंग साइट मैच द्वारा रोमांटिक संबंधों को लेकर किए गए 11वें सालाना सर्वे 2021 के मुताबिक, अब अन्य सभी खूबियों से ज्यादा प्राथमिकता भावनात्मक परिपक्वता की दी जा रही है। अमेरिका में यह सर्वे 18 से 98 साल के लोगों पर किया गया।

सर्वे के मुताबिक, अब एकाकी लोग पहले की तरह शारीरिक तौर पर आकर्षक साथी को नहीं खोज रहे हैं। इसकी जगह पर लंबे समय तक साथ देने वाले ऐसे साथी को तलाश रहे हैं, जिसके साथ उनकी जिंदगी में सुरक्षा और स्थिरता आए। सर्वे में शामिल 83 फीसद लोग खुले विचार और मतभेद को स्वीकार करने वाले साथी चाहते हैं। वहीं, 84 फीसद ने कहा है कि अगर साथी अच्छा कम्युनिकेटर हो तो यह ज्यादा अच्छा साबित होगा। 2020 में हुए ऐसे ही सर्वे में शामिल 90 फीसद लोगों ने भावी साथी की सबसे बड़ी खूबी शारीरिक आकर्षण बताई थी। वहीं, 2021 के सर्वे में यह आंकड़ा घटकर 78 फीसद रह गया। 73 फीसद लोगों ने माना कि वे पिछले साल की तुलना में प्राथमिकताओं पर बेहतर ढंग से काम कर रहे हैं।

सर्वे में शामिल एकाकी लोग जल्द से जल्द जीवनसाथी पाना चाहते हैं। केवल 11 फीसद लोग ही ऐसे हैं, जो समय बिताने के लिए मित्रता के इच्छुक हैं। जबकि, 65 फीसद ने कहा कि वे एक साल के भीतर साथी तय कर लेना चाहते हैं। वहीं 62 फीसद ने कहा कि वे संबंधों में प्रतिबद्धता वाला साथी चाहते हैं।

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट