पंजाबः तनातनी में फिर झुकने को CM मजबूर, सिद्धू की ताजपोशी से पहले “टी-पार्टी” में दोनों मिले, बगल में बैठे नवजोत

भले ही कैप्टन अमरिंदर सिंह शुक्रवार को पंजाब कांग्रेस भवन में होने वाले ताजपोशी कार्यक्रम में शामिल हो रहे हों लेकिन उन्होंने अभी तक नए प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को बधाई नहीं दी है।

punjab, congress
मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पंजाब भवन में नए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू से मुलाकात की। (फोटो – एएनआई)

पंजाब कांग्रेस के नए अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू से तनातनी के बीच मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह झुकने को मजबूर हो गए हैं। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने चंडीगढ़ के पंजाब भवन में नए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू से मुलाकात की। इस दौरान नवजोत सिंह सिद्धू कैप्टन अमरिंदर सिंह के बगल में बैठे। मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पार्टी के विधायकों, सांसदों और राज्य के वरिष्ठ पदाधिकारियों को चाय पर आमंत्रित किया है। कैप्टन अमरिंदर सिंह पंजाब कांग्रेस के कार्यालय में होने वाले नवजोत सिंह सिद्धू की ताजपोशी कार्यक्रम में भी शामिल होंगे। इस कार्यक्रम में नवजोत सिंह सिद्धू के साथ चार कार्यकारी अध्यक्ष भी अपना कार्यभार संभालेंगे।

गुरुवार को पंजाब कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष कुलजीत नागरा और संगत सिंह गिलजियां ने कैप्टन अमरिंदर सिंह के घर जाकर उन्हें ताजपोशी कार्यक्रम में शामिल होने का न्योता दिया। जिसके बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस निमंत्रण को स्वीकार कर लिया। अमरिंदर सिंह के मीडिया प्रभारी रवीन ठुकराल ने इसकी पुष्टि करते हुए गुरुवार शाम को एक ट्वीट किया था। रवीन ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शुक्रवार सुबह 10 बजे पंजाब भवन में सभी विधायकों, सांसदों और सीनियर पार्टी नेताओं को चाय पर बुलाया है। उसके बाद कैप्टन पंजाब कांग्रेस भवन जाएंगे और नए अध्यक्ष के ताजपोशी समारोह में हिस्सा लेंगे।

कैप्टन अमरिंदर सिंह शुक्रवार को पंजाब कांग्रेस भवन में होने वाले ताजपोशी कार्यक्रम में भले ही शामिल होंगे लेकिन उन्होंने अभी तक नए प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को बधाई नहीं दी है। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शर्त रखी थी कि जब सिद्धू उनके खिलाफ की गई अभद्रता के लिए माफ़ी मांगेंगे तभी वे उनको बधाई देंगे। हालांकि सिद्धू ने अभी तक अमरिंदर सिंह से माफ़ी नहीं मांगी है। कहा जा रहा है कि पार्टी के शीर्ष नेतृत्व के कहने पर ही अमरिंदर सिंह तमाम मतभेद को भुलाकर सिद्धू के ताजपोशी कार्यक्रम में शामिल होंगे। 

नवजोत सिंह सिद्धू पंजाब कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष कुलजीत नागरा के द्वारा मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को भेजे गए निमंत्रण पत्र में भी शक्ति प्रदर्शन करने से नहीं चूके। सिद्धू ने अमरिंदर सिंह को लिखे पत्र में कहा कि जैसा आपको ज्ञात है कि कांग्रेस अध्यक्ष ने नवजोत सिंह सिद्धू को पंजाब कांग्रेस का प्रधान बनाया है और साथ ही चार कार्यकारी अध्यक्ष भी नियुक्त किया है। इसलिए आपसे अनुरोध है कि नई टीम को अपना आशीर्वाद जरूर दें। साथ ही इस पत्र में करीब 60 विधायकों के हस्ताक्षर भी शामिल हैं। जिसे साफ़ साफ़ सिद्धू का शक्ति प्रदर्शन माना जा रहा है।

कार्यक्रम में हिस्सा लेने जा रहे जा रहे तीन कांग्रेसियों की सड़क हादसे में मौत: पंजाब कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बने नवजोत सिंह सिद्धू की ताजपोशी के कार्यक्रम में हिस्सा लेने जा रहे जा रहे तीन कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मौत सड़क हादसे में हो गई। यह घटना पंजाब के मोगा जिले में हुई। प्राप्त जानकारी के अनुसार कांग्रेस कार्यकर्ता निजी बस में सवार होकर मोगा से चंडीगढ़ के लिए जा रहे थे। इस दौरान रास्ते में निजी बस की टक्कर पंजाब रोडवेज की एक बस से हो गई। जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई।

शुक्रवार को होने वाले कार्यक्रम में  सिद्धू के अलावा पंजाब कांग्रेस के कार्यकारी प्रधान कुलजीत सिंह नागरा, सुखविंदर सिंह डैनी, संगत सिंह गिलजियां और पवन गर्ग भी अपना पदभार संभालेंगे। समारोह में पंजाब प्रभारी हरीश रावत, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुनील जाखड़ समेत पार्टी के सभी विधायक, मंत्री व सांसद भी मौजूद रहेंगे। इस कार्यक्रम के लिए सभी विधायकों को निर्देश दिया गया है कि वे अपने साथ एक हजार समर्थक भी लाएं।

Next Story
शहीदे-आजम सरीखे जज्बे से इंसाफ के लिए लड़ती रहीं भगत सिंह की बहन प्रकाश कौर
अपडेट