scorecardresearch

कोई जालिम, कोई जाबिर हमेशा न रहा है और न रहेगा, जुबैर अहमद की गिरफ्तारी पर भड़के तेजस्वी यादव, ओवैसी भी हुए आगबबूला, पढ़ें किसने क्‍या कहा

अगर जुबैर की जान को कुछ होगा तो इसकी जिम्मेदारी BJP और PM नरेंद्र मोदी की होगी। क्या जुर्म है जुबैर का? जुबैर तो मजलिस के बारे में भी गलत बोलने पर लिख देते थे।

Asaduddin Owaisi| Alt News | Tejaswi Yadav
असदुद्दीन ओवैसीः Photo Credit – File

ऑल्ट न्यूज वेबसाइट के सह संपादक मोहम्मद जुबैर को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि जुबैर पर यह कार्रवाई धार्मिक भावनाएं भड़काने के मामले को लेकर की गई है। जुबैर के ऊपर आईपीसी (IPC) की धारा-153 जिसके मुताबिक ऐसे कृत्य जिससे दंगे और उपद्रव होने की आशंका हो और धारा-295 जिसके मुताबिक किसी समाज द्वारा पवित्र मानी जाने वाली वस्तु का अपमान करना के तहत गिरफ्तारी की गई है। कथित तौर पर मोहम्मद जुबैर फेक न्यूज फैलान के लिए बदनाम हैं।

जुबैर की गिरफ्तारी को लेकर AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी से लेकर बिहार के आरजेडी नेता तेजस्वी यादव तक नाराज दिखाई दिए हैं। दोनों ही नेताओं ने जुबैर की गिरफ्तारी पर अपनी-अपनी प्रतिक्रिया दी है। असदुद्दीन ओवैसी ने जुबैर की गिरफ्तारी को गलत ठहराते हुए उसे रिहा करने की मांग की तो वहीं आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने जुबैर की गिरफ्तारी पर एक ट्वीट किया है।

पुलिस ने झूठा केस लगाकर जुबैर को गिरफ्तार किया
AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने जुबैर की गिरफ्तारी को लेकर मंच से कहा, आप देखते हैं कि दिल्ली में एक अल्ट न्यूज वाले जुबैर को दिल्ली पुलिस अचानक गिरफ्तार कर लेती है। पुलिस झूठा केस लगाकर पुलिस को गिरफ्तार करती है। हम प्रधानमंत्री से इस बात की मांग करते हैं कि जुबैर कहां है बताओ हमको इस बारे में जानकारी मिल रही है कि जुबैर को किसी गाड़ी में बैठाकर ले जाया जा रहा है।

जुबैर को कुछ हुआ तो जिम्मेदारी BJP और PM मोदी की होगी
अगर जुबैर की जान को कुछ होगा तो इसकी जिम्मेदारी भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की होगी। क्या जुर्म है जुबैर का? जुबैर तो मजलिस के बारे में भी अगर गलत बोला है तो लिख देते थे। आप जुबैर को गाड़ी में बैठाकर ले जा रहे हैं। मैं अल्लाह से दुआ करता हूं कि परवरदिगार जो जेल में मासूम लोग हैं चाहे वो किसी भी मजहब के क्यों ना हो अल्लाह उनको इन जालिमों के जुल्म से निजात दिला दे।

वहीं तेजस्वी यादव ने जुबैर के लिए किया ट्वीट
मोहम्मद जुबैर की गिरफ्तारी के विरोध में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने भी विरोध दर्ज करवाया है। आरजेडी नेता ने सोशल मीडिया पर जुबैर की गिरफ्तारी पर सवाल उठाते हुए लिखा है। तेजस्वी यादव ने ट्विटर पर लिखा है, ‘ऐ आखं वालो इबरत हासिल करो कोई जालिम कोई जाबिर हमेशा न रहा है न रहेगा। एक दिन उसको जरूर अपने आमाल का हिसाब देने अपने रब के रूबरू हाजिर होना है।’

अखिलेश यादव ने किया मोहम्मद जुबैर के समर्थन में किया ट्वीट
समाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ऑल्ट न्यूज के पत्रकार मोहम्मद जुबैर के समर्थन में ट्विटर पर लिखा है। अखिलेश यादव ने ट्वीट करते हुए लिखा, अच्छे नहीं लगते हैं उन झूठ के सौदागरों को सच की पड़ताल करने वाले… जिन्होंने अपनी आस्तीन में हैं पाले, नफ़रत का ज़हर उगलने वाले।

योगेंद्र यादव ने भी मोहम्मद जुबैर के समर्थन में किया ट्वीट
स्वराज इंडिया पार्टी के नेता और चुनाव विश्लेषक योगेंद्र यादव ने ऑल्ट न्यूज के संपादक मोहम्मद जुबैर की गिरफ्तारी पर #IStandWithZubair के साथ ट्वीट किया है, जुबैर की पत्रकारिता वह पब्लिश कर रही है जिसे कोई शक्तिशाली व्यक्ति पब्लिश नहीं करना चाहता; बाकी सब जनसंपर्क है।


सोशल मीडिया पर आ रहे हैं ऐसे कमेंट्स
वहीं सोशल मीडिया पर ओवैसी के बयान के बाद कई यूजर्स ने इस पर कमेंट भी किया है।

@AinuddinSaikh नामका एक यूजर जवाब देते हुए ट्विटर पर लिखता है, ऑल्ट न्यूज़ के संपादक ज़ुबेर को गिरफ़्तार किया। आज अगर चुप रहेंगे तो तुम्हारे लिए कोई आवाज नहीं उठायेगा, जेल में जग खाली क्यों हैं मुर्दो के कौम तुम्हारे रसूले पाक का बेइज्जती का बदला कब ??

वहीं एक और @AkhileshRampura नाम के यूजर ने लिखा, इस बयान से लगता है कि ओवैसी के गिरोह उसको क्षति पहुंचाकर माहौल बिगाड़ने के लिए प्रयासरत है।

इसके अलावा एक और ट्विटर यूजर @SatyaSi44625114 ने लिखा, जुबैर ने हमारे धर्म के बारे में गलत क्यो बोला किस हक से बोला कौन है वो जो हमारे धर्म के बारे में बोलेगा नम्बर सबका आयेगा बहुत ही गया अब बर्दाश्त नहीं।

वहीं इसी वीडियो पर रिप्लाई करते हुए @KakaMangilal नामका यूजर लिखता है, झूठ और सच का फैसला अदालत पर छोड़ देना चाहिए मि. औवेसी

वहीं तेजस्वी यादव के ट्वीट को रिप्लाई करते हुए एक यूजर @oza_shubhu ने लिखा, ये ट्वीट तेजस्वी लिख ही नहीं सकता ये 100%किसी ने लिख कर दिया था जिसे उसने पेस्ट किया है अब सवाल है की एक दो कौड़ी के पत्रकार के लिए ये बैटिंग क्यों कर रहा है?

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट

X