ताज़ा खबर
 

गुजरात के कच्छ में घुसे पाकिस्तानी कमांडो, हाई अलर्ट पर राज्य के सभी बंदरगाह

गुजरात में किसी भी तरह की अप्रिय घटना से बचने के लिए सुरक्षा उपाय करने के निर्देश दिए गए हैं। मुंद्रा बंदरगाह पर सभी जहाजों को कड़े सुरक्षा उपाय करने और लगातार निगरानी करने की सलाह दी गई है।

Gujarat, ports, pakistan, pakistani commandos, Jaise-e-Mohammad, terror orgnisation, under water attack, Indian coast guard, Indian Navy, Adani Ports, Deendayal Ports Trust, intelligence inputs, Jammu and Kashmir, high alert after security inputs, navy chief, india news, Hindi news, news in Hindi, latest news, today news in Hindiनौसेना प्रमुख ने पाकिस्तानी आतंकी संगठन की तरफ से पानी के भीतर से हमले की आशंका व्यक्त की थी। (प्रतीकात्मक फोटो)

गुजरात में कच्छ क्षेत्र में पाकिस्तान की तरफ से प्रशिक्षित कमांडरों के घुसने की खुफिया सूचना है। इंटेलिजेंस इनपुट के बाद से राज्य के सभी बंदरगाहों को हाई अलर्ट कर दिया गया है। एनडीटीवी की खबर के अनुसार पोर्ट ट्रस्ट के अधिकारी की तरफ से इस आशय की सूचना दी गई है।

अधिकारी के अनुसार पाकिस्तान की तरफ से सांप्रदायिक हिंसा या आतंकी हमले की सूचना है। अदानी पोर्ट्स एंड एसईजेड के अनुसार कोस्ट गार्ड स्टेशन की तरफ से सूचना मिली है कि पाकिस्तान प्रशिक्षित कमांडो हरामी नाला क्रीक क्षेत्र से कच्छ की खाड़ी में घुस गए हैं। माना जा रहा है कि वे पानी के अंदर से हमला कर सकते हैं।

खबर के अनुसार अदानी पोर्ट्स की तरफ बयान में कहा गया है कि गुजरात में किसी भी तरह की अप्रिय घटना से बचने के लिए सुरक्षा उपाय करने के निर्देश दिए गए हैं। मुंद्रा बंदरगाह पर सभी जहाजों को कड़े सुरक्षा उपाय करने और लगातार निगरानी करने की सलाह दी गई है।

दीनदयाल पोर्ट ट्रस्ट (पूर्व में कांडला पोर्ट ट्रस्ट) की तरफ से सिगनल सुपरिटेंडेंट ने निगरानी और अलर्ट बढ़ाने के साथ ही सुरक्षा उपाय बढ़ाने को कहा है। इसमें बंदरगाह के आसपास के क्षेत्र में निगरानी बढ़ाने के साथ ही चौकसी बढ़ाने के निर्देश हैं। इसके साथ ही तट के निकट किसी भी संदेहास्पद व्यक्ति या बोट पर नजर रखने को कहा गया है। इसके साथ ही आपपास के कार्यालयों के वाहनों की भी जांच करने को कहा गया है।

सुरक्षा एजेंसियों की तरफ से यह अलर्ट सरकार के कश्मीर के मुद्दे पर लिए गए निर्णय के बाद भारत-पाकिस्तान के बीच उपजे तनाव के बीच आया है। केंद्र सरकार ने 5 अगस्त को जम्मू और कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म किए जाने की घोषणा की थी। केंद्र ने राज्य का बंटवारा करते हुए जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश बनाने की भी घोषणा की थी।

इससे पहले सोमवार को नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने सुरक्षा एजेंसियों के दावों का हवाला देते हुए कहा था कि पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद अपने सदस्यों को पानी के भीतर से हमला करने का प्रशिक्षण दे रहा है। उन्होंने कहा था कि हम इस पर नजर बनाए हुए हैं। एडमिरल सिंह ने कहा था कि हम ऐसे किसी भी हमले को नाकाम करने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 Kerala Karunya Plus Lottery KN-279 Results: इनका लगा 80 लाख रुपए तक का इनाम, यहां देखें विजेताओं की पूरी सूची
2 यूएन को लिखी चिट्ठी में पाकिस्तान ने सिर्फ राहुल गांधी नहीं, हरियाणा के सीएम खट्टर के बयान का भी दिया हवाला
3 तसलीमा नसरीन बोलीं- हम जानते हैं पाक‍िस्‍तानी सेना की क्रूरता, दो लाख मह‍िलाओं का क‍िया बलात्‍कार, अरुंधति रॉय पर साधा न‍िशाना
ये पढ़ा क्या?
X