ताज़ा खबर
 

अलर्ट! उत्तर भारत को और सताएगी शीत लहर, 5 राज्यों में छाएगा और ज्यादा कोहरा

अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर भारत के 5 राज्यों में छाए कोहरे के और ज्यादा गहराने के आसार हैं। 22 जनवरी तक लोगों को कड़ाके की सर्दी झेलनी होगी।

Author Edited By शैलेंद्र गौतम नई दिल्ली | Updated: January 18, 2021 10:40 PM
fog , weather , delhiघने कोहरे में लिपटी दिल्ली (फोटो – एक्सप्रेस आर्काइव)

पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी की वजह से उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में सर्दी अभी और ज्यादा सितम ढाने वाली है। अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर भारत के 5 राज्यों में छाए कोहरे के और ज्यादा गहराने के आसार हैं। 22 जनवरी तक लोगों को कड़ाके की सर्दी झेलनी होगी। भारतीय मौसम विज्ञान (आईएमडी) के सीनियर साइंटिस्ट आरके जेनामनी का कहना है कि उत्तर भारत के इलाकों में आनेवाले दिनों में दिन का तापमान बढ़ने के आसार हैं, लेकिन रात में पारा और ज्यादा नीचे गिर सकता है।

धीरे-धीरे कोहरा कम होने के आसार

हालांकि, इस बीच राहत की बात यह है कि हवाओं की वजह से उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, चंडीगढ़ और बिहार में छाया घना कोहरा धीरे-धीरे हटना शुरू हो जाएगा। मौसम विभाग का अनुमान है कि इन इलाकों में अगले कुछ दिनों तक कड़ाके की सर्दी पड़ेगी। अगले 3दिनों के दौरान पारा 2 से 4 डिग्री तक रहने के आसार हैं।

लद्दाख में तापमान माइनस 30 डिग्री कश्मीर में मौसम का सितम लगातार जारी है। डल लेक पूरी तरह जम चुकी है। रविवार को तापमान माइनस 8 डिग्री दर्ज किया गया।
यह बीते 30 सालों में सबसे कम रहा है। लद्दाख में तापमान माइनस 30 डिग्री तक पहुंच गया है। श्रीनगर का न्यूनतम तापमान सामान्य से करीब 6 डिग्री नीचे है। श्रीनगर में न्यूनतम तापमान -7.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है।

दिल्ली-एनसीआर में और ज्यादा बढ़ी ठंड

दिल्ली-एनसीआर में कड़ाके के साथ घने कोहरे के कारण विजिबिलिटी भी कम हो गई है। मौसम विभाग के मुताबिक, आज दिल्ली में न्यूनतम तापमान 6 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम 20 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। आज हल्की बूंदाबांदी की भी संभावना जताई गई है। सर्द मौसम की वजह से दिल्ली की हवा की गुणवत्ता लगातार
खराब हो रही है। दिल्ली का एयर क्वालिटी इंडेक्स लगातार 4 सौ के ऊपर देखा जा रहा है।

22 जनवरी से असर दिखाएगा पश्चिमी विक्षोभ

मौसम विभाग का कहना है कि पश्चिमी विक्षोभ 22 जनवरी से पश्चिमी हिमालयन क्षेत्र में अपना असर दिखा सकता है। इसकी वजह से हिमालय क्षेत्र में बर्फबारी के साथ
उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र से लगते मैदानी इलाकों में 23 और 24 जनवरी को बारिश के आसार हैं।

उत्तर-पूर्वी मानसून के लिए हालात अनुकूल

उत्तर-पूर्वी मानसून के लिए मौजूदा हालात अनुकूल बताए जा रहे हैं। स्काइमेट वेदर के मुताबिक, अगले 24 घंटों में दक्षिणी भारत के तमिलनाडु, केरल, लक्षद्वीप और अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश और एक-दो स्थानों पर मध्यम वर्षा होगी।

Next Stories
1 राम मंदिरः Congress के दिग्विजय ने दिया 1 लाख से अधिक का चंदा, कहा- हथियारों के बल पर न जुटाया जाए चंदा
2 मोदी सरकार ने सूट-बूट वालों का 8.75 लाख करोड़ ‘कर्ज माफ’ कर दिया, राहुल गांधी का आरोप; शेयर किया ग्राफिक वीडियो
3 Adani Group के 3 एयरपोर्ट्स को अब ACI स्वास्थ्य मान्यता, संचालन का काम देने पर पहले NITI Aayog-वित्त मंत्रालय ने जताई थी आपत्ति
ये पढ़ा क्या?
X