UP में अखिलेश के चाचा का सियासी दांव! चुनाव से पहले ब्राह्मणों को लुभाने में झोंक रहे दम, जेल में BJP विधायकों से की भेंट

शिवपाल की विधायक से मुलाकात ने यूपी की सियासत में नई हवा दे दी है। मुलाकात के बाद शिवपाल ने कहा कि ब्राह्मणों की बात तो सब करते हैं लेकिन उनसे मिलने कोई नहीं आया था।

Akhilesh Yadav, Shivpal Yadav
समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव और उनके चाचा शिवपाल यादव (फोटो- इंडियन एक्सप्रेस)

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर सभी दलों की तैयारी तेज हो गई है। इसी तैयारी के मद्देनजर समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव ने आगरा की जेल में बंद ब्राह्मण विधायकों से मुलाकात की है। गौरतलब है कि आगरा केंद्रीय कारागार में भदोही के विधायक विजय मिश्रा और एमएलसी कमलेश पाठक सजा काट रहे हैं।

शिवपाल की विधायकों से मुलाकात ने यूपी की सियासत की हवा को गर्म कर दिया है। मुलाकात के बाद शिवपाल ने कहा कि ब्राह्मणों की बात तो सब करते हैं लेकिन उनसे मिलने कोई नहीं आया था। शिवपाल लगभग 2 घंटे तक विजय मिश्रा और एमएलसी कमलेश पाठक के साथ बैठक करते रहे। खबरों के अनुसार उनकी मुलाकात की खबर किसी को नहीं थी। वो अचानक ही विधायकों से मिलने सेंट्रल जेल पहुंच गए थे।

बैठक के बाद उन्होंने कहा कि जेल में लोगों का शोषण हो रहा है। उन्हें समय पर खाना तक नहीं दिया जा रहा है। कोविड की वजह से लोगों से मुलाकात भी नहीं हो रही है। जब शिवपाल से समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन को लेकर सवाल किए गए तो उन्होंने गोलमोल जवाब दिया।

बताते चलें कि हाल ही में एबीपी न्यूज के एक कार्यक्रम में शिवपाल यादव ने कहा था कि वो अपनी पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का समाजवादी पार्टी में विलय करने के लिए तैयार हैं, लेकिन सम्मान के साथ समझौता नहीं करेंगे। शिवपाल ने कहा कि, ‘मैं चाहता हूं कि सभी दल एक होकर भारतीय जनता पार्टी को हराने में मदद करें। लेकिन जो भी हमारे साथ लोग हैं उनका सम्मान बना रहे।’

उन्होंने पत्रकार पंकज झा से कहा कि मेरी बात पहुंचा दो, कह देना कि चाचा तो तैयार हैं लेकिन मेरे जो भी लोग हैं उनका ए़डजस्टमेंट होना चाहिए। जब उनसे पूछा गया कि आप विलय चाहते हैं या नहीं? शिवपाल यादव ने कहा कि वो तो बात होने के बाद ही तय होगा। लेकिन जो भी होगा वो सम्मान के साथ होगा। मुझसे पहले मेरे साथियों का सम्मान होना चाहिए। शिवपाल यादव ने भाजपा सरकार पर भी निशाना साधते हुए कहा था कि कोरोना महामारी में भी ये सरकार विफल रही और लोगों को ऑक्सीजन तक नहीं दे पाई जिसकी वजह से कई लोगों की असमय मौत हो गई। साथ ही उन्होंने कहा कि सभी सेक्युलर पार्टियां एक साथ आए ताकि भाजपा को हराया जा सके।  

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट