ताज़ा खबर
 

करीबियों को बर्खास्‍त किए जाने पर मुलायम से नाराज हुए अखिलेश? सैफई महोत्‍सव में न पहुंचने से उठे सवाल

शुक्रवार को मुलायम सिंह यादव और पंचायत चुनाव प्रभारी शिवपाल यादव ने आनंद भदौरिया, सुनील सिंह साजन, सुबोध यादव को पंचायत चुनाव में पार्टी विरोधी गतिविधियों की रिपोर्ट मिलने पर पार्टी से बर्खास्‍त कर दिया था।

Author लखनऊ | Updated: December 27, 2015 5:13 PM
अखिलेश यादव के साथ मुलायम सिंह यादव।

समाजवादी पार्टी की अंतर्कलह एक बार फिर दुनिया के सामने आ गई है। खबर है कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अपने दो करीबियों को पार्टी से निकाले जाने पर नाराज हो गए हैं। शनिवार को सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने सैफई महोत्‍सव का उद्घाटन किया, लेकिन अखिलेश इसमें नहीं पहुंचे। राजनीतिक गलियारों में कयास लगाए जा रहे हैं कि यादव परिवार में खींचतान की वजह से ऐसा हुआ है।

मुलायम सिंह ने चार करीबी सिपहसालारों को पार्टी से बाहर क्या किया अखिलेश की भौंहे चढ़ गईं और नाराज सीएम अखिलेश यादव इटावा में हुए सपा के महत्वाकांक्षी सैफई महोत्सव के उद्घाटन कार्यक्रम में ही शामिल नहीं हुए। उनकी जगह उनके पिता मुलायम सिंह यादव ने समारोह का उद्घाटन किया।

जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार को मुलायम सिंह और पंचायत चुनाव प्रभारी शिवपाल यादव ने आनंद भदौरिया, सुनील सिंह साजन, सुबोध यादव को पंचायत चुनाव में पार्टी विरोधी गतिविधियों की रिपोर्ट मिलने पर पार्टी से बर्खास्‍त कर दिया था। ये नेता अखिलेश यादव की कोर टीम में शामिल थे। बताया जा रहा है कि इसी से नाराज अखिलेश सैफई नहीं गए।

मुलायम सिंह यादव अक्सर मंच से अखिलेश और उनकी सरकार पर नाराजगी जाहिर करते रहते हैं, लेकिन अखिलेश ने कभी पलटकर जवाब नहीं दिया। सूत्रों का कहना है कि कई बार तो नेताजी मंत्रिमंडल तक में फेरबदल करा देते हैं और अखिलेश कुछ नहीं कर पाते हैं। हालांकि, इस बार भी उन्‍होंने कोई बयान तो नहीं दिया है, लेकिन नाराजगी तो जाहिर कर दी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories