बाबरी विध्वंस और मोदी के प्रधानमंत्री बनने के लिए कांग्रेस 'जिम्मेदार': ओवैसी - Jansatta
ताज़ा खबर
 

बाबरी विध्वंस और मोदी के प्रधानमंत्री बनने के लिए कांग्रेस ‘जिम्मेदार’: ओवैसी

एआईआईएम के विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी ने नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने और बाबरी ढांचे के विध्वंस के लिए कांग्रेस को ‘जिम्मेदार’ ठहराया है..

Author किशनंगज | October 5, 2015 6:34 PM
एआईआईएम के विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी ने नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने और बाबरी ढांचे के विध्वंस के लिए कांग्रेस को ‘जिम्मेदार’ ठहराया है। (फाइल फोटो)

मजलिस-ए-इत्तहादुल मुस्लेमीन (एआईआईएम) के विधायक अकबरुद्दीन ओवैसी ने नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने और बाबरी ढांचे के विध्वंस के लिए कांग्रेस को ‘जिम्मेदार’ ठहराया है। रविवार को एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने आरोप लगाया, ‘‘यह कांग्रेस की अक्षमता थी, जिसके चलते मोदी प्रधानमंत्री के पद तक पहुंचे।’’

उन्होंने वर्ष 2002 के गुजरात दंगे का जिक्र करते असदुद्दीन ओवैसी के भाई अकबरूद्दीन ने कहा, ‘इस घटना के बाद केंद्र की कांग्रेस सरकार ने अगर मोदी के खिलाफ कार्रवाई की होती तो वह आज प्रधानमंत्री के पद तक नहीं पहुंच पाते।’

उन्होंने राम मंदिर मामले के लिए भी कांग्रेस पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया, ‘‘मंदिर का ताला खोलने और उसके बाद मस्जिद (बाबरी ढांचे) के विध्वंस के लिए यह पार्टी जिम्मेदार है।’’

उन्होंने मोदी पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘मोदी सरकार के 15 महीने बीत गए लेकिन अच्छे दिन नहीं आये। मोदी अप्रवासी प्रधानमंत्री बन गये हैं। वह विदेश यात्रा के दौरान ड्रम बजाते हैं और गीता बांटते हैं जबकि देश की पवित्र किताब भारत का संविधान है।’’

अकबरुद्दीन ने बिहार और सीमांचल क्षेत्र के मुसलमानों की बदहाली के लिए जदयू और राजद को जिम्मेदार ठहराया और कहा कि इस पार्टी के नेता मुसलमानों को गुमराह कर उनका वोट अब तक लेते रहे हैं। लेकिन इन्होंने इस समुदाय के उत्थान के लिए कुछ भी नहीं किया।

नीतीश पर तीखा प्रहार करते हुए अकबरुद्दीन ने आरोप लगाया कि उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से व्यक्तिगत दुश्मनी है न कि भाजपा से है। आज भाजपा मोदी को प्रधानमंत्री पद से हटा दे तो नीतीश दोबारा भाजपा से हाथ मिला लेंगे।

जनसभा को किशनगंज से एआईआईएम के प्रत्याशी अख्तरुल इमान के अलावा आंध्रप्रदेश, तेलंगाना और महाराष्ट्र से आए पार्टी के कई अन्य नेताओं ने भी संबोधित किया। बिहार विधानसभा चुनाव 12 अक्तूबर से पांच नवंबर के बीच पांच चरणों में संपन्न होंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App