ताज़ा खबर
 

डोभाल ने की लश्कर, जैश पर कार्रवाई की बात तो SCO की मीटिंग में बगलें झांकने लगा पाक

ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के सदस्य देशों के एनएसए की बैठक के दौरान अजीत डोभाल ने आतंकवाद के सभी स्वरूपों की कड़ी निंदा की।

भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल। (फोटो- पीटीआई)

भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने पाकिस्तान समर्थित आतंकी संगठन लश्कर और जैश के खिलाफ एक्शन लिए जाने की बात कही। डोभाल ने तीखे लहजे में कहा कि एससीओ को पाकिस्तान समर्थित आतंकी संगठनों पर एक्शन लेना ही होगा।

ताजिकिस्तान की राजधानी दुशांबे में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के सदस्य देशों के एनएसए की बैठक के दौरान अजीत डोभाल ने आतंकवाद के सभी स्वरूपों की कड़ी निंदा की। अजीत डोभाल ने कहा कि आतंकी हमलों के पीछे मौजूद लोगों पर सख्त एक्शन लिया जाना बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों और संयुक्त राष्ट्र द्वारा नामित आतंकिवायों और संस्थाओं के खिलाफ प्रतिबंधों को कड़ाई से लागू किया जाना बेहद जरूरी है। उन्होंने पाकिस्तान का नाम लिए बगैर उस पर हमला बोला और कहा कि आतंकवाद के वित्तपोषण का मुकाबला करने के लिए अंतरराष्ट्रीय मानकों को अपनाने से ही कामयाबी मिलेगी।

डोभाल ने हथियारों की तस्करी और डार्क वेब, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, ब्लॉकचेन और सोशल मीडिया के दुरुपयोग के लिए ड्रोन सहित आतंकवादियों द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली नई तकनीकों की निगरानी की आवश्यकता पर संदेश दिया।

ताजिकिस्तान वर्तमान में एससीओ का अध्यक्ष है। 23 तथा 24 जून को आठ सदस्य देशों के एनएसए की बैठक की वो मेजबानी कर रहा है। पाकिस्तानी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद यूसुफ भी बैठक में शामिल हुए। हालांकि, डोभाल के तीखे तेवरों पर उनकी तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई। सूत्रों के अनुसार, डोभाल और यूसुफ के बीच मुलाकात की कोई गुंजाइश नहीं है।

एससीओ को नाटो के जवाब के तौर पर देखा जाता है। 8 सदस्यीय आर्थिक व सामरिक महत्व के इस संगठन का आगाज 2001 में शंघाई में किया गया था। रूस, चीन के राष्ट्रपतियों की मौजूदगी में इसकी आधारशिला तैयार की गई थी। भारत और पाक 2017 में इसके स्थाई सदस्य के तौर पर शामिल हुए। इसमें शामिल सभी देशों का मानना है कि आतंकवाद के खिलाफ कड़ाई से कदम उठाए जाने चाहिए। हालांकि, पाक इस मोर्चे पर दोहरा रवैया अपनाता है। इसे लेकर ही डोभाल ने पाक को कटघरे में खड़ा करने की कोशिश की।

Next Stories
1 वरुण गांधी के ट्वीट पर भारत सरकार ने भेजी आपत्ति, ट्विटर ने बताया तो उसी पर भड़क गए बीजेपी सांसद
2 गुजरातः ‘सारे मोदी चोर’ हैं, बयान पर राहुल की सूरत कोर्ट में सफाई, बोले-ये केवल राजनीतिक कटाक्ष था
3 चुनावी खर्च का ब्योरा न देने पर पूर्व केंद्रीय मंत्री पर गाज, चुनाव आयोग ने लगा दिया 3 साल का प्रतिबंध
आज का राशिफल
X