ताज़ा खबर
 

पत्रकार ने किया ट्वीट- आज सुबह तक पीछे नहीं हटे थे चीनी सैनिक, दिग्विजय सिंह ने कहा- अपडेट के लिए शुक्रिया

वरिष्ठ पत्रकार अजय शुक्ल ने आज सुबह ट्वीट कर वह यूजर्स को वहां की स्थिति के बारे में बताया। इसपर कांग्रेस नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने उन्हें शुक्रिया कहा है।

Digvijay singhदिग्विजय सिंह (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

लद्दाख में भारत और चीन के बीच सीमा पर जारी तनाव फिलहाल खत्‍म होता दिखाई दे रहा है। वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) को पार कर भारतीय सीमा में बड़ी तादात में चीनी सैनिक घुस आए हैं। वरिष्ठ पत्रकार अजय शुक्ल ने आज सुबह ट्वीट कर वह यूजर्स को वहां की स्थिति के बारे में बताया। इसपर कांग्रेस नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने उन्हें शुक्रिया कहा है।

सुरक्षा मामलों के जानकार अजय शुक्ला ने ट्वीट कर लिखा “लद्दाख बार्डर अपडेट, पीएलए ने गालवान घाटी और पैंगोंग त्सो क्षेत्रों में अवैध रूप से कब्जा कर लिया है। आज सुबह तक यहां से चीनी सैनिकों की कोई टुकड़ी वापस नहीं गई है।” इसपर कांग्रेस नेता ने ट्वीट कर लिखा “शुक्रिया अजय शुक्ल, आपकी बदौलत हमें चीनी सीमा की सही ग्राउंड जेरो स्थिति का पता चल जाता है। इसे भारत सरकार ने भी खारिज नहीं किया है, वहीं रक्षा मंत्री ने भी अजय शुक्ला की रिपोर्टों की पुष्टि की। इस मुद्दे पर पीएम की चुप्पी सही नहीं है।”

हालांकि दिग्विजय सिंह के इस ट्वीट पर कुछ लोगों ने उन्हें ट्रोल भी किया। एक यूजर ने लिखा “हिंदुस्तान की जमीन तो आपके परम पूज्य नेहरु जी ने दे दी थी। मोदी जी नहीं देंगे ये आप भी जानते हैं। लेकिन समझ सकता हूँ आपकी मजबूरी भी, कुछ न कुछ तो लिखना ही है न, नहीं दिन भर और काम क्या है?”

बता दें भारत और चीन के सैन्य कमांडरों के बीच बुधवार को ‘सकारात्मक’ बातचीत हुई। मेजर जनरल स्तर की मीटिंग पूर्वी लद्दाख में एलएसी के भारतीय हिस्से में हुई। सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘वार्ता सकारात्मक रही और दोनों पक्षों ने सकारात्मक माहौल में विचारों का आदान-प्रदान किया। दोनों सेनाएं बातचीत से गतिरोध को दूर करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।’ गतिरोध को शांतिपूर्ण तरीके से खत्म करने के लिए दोनों सेनाओं ने गलवान घाटी ओर हॉट स्प्रिंग के कुछ इलाकों में सीमित संख्या में अपने सैनिकों को पीछे हटा लिया जिसके एक दिन बाद यह वार्ता हुई है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 ‘हरियाणा के 103 गांव हिन्दू विहीन हो गए’, वरिष्ठ पत्रकार का दावा- तबलीगी जमात के डर से हुआ पलायन
2 अमेरिकी सांसदों की जिस टीम ने भारत में धार्मिक स्वतंत्रता को बताया था खतरा, उसे वीजा देने से इनकार
3 एक साथ चार जगहों पर रात के अंधेरे में पाकिस्तान की तरफ से फायरिंग, सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब
IPL 2020 LIVE
X