scorecardresearch

हरियाणाः प्रदूषण को लेकर खट्टर सरकार का बड़ा फैसला, दिल्ली से लगते चार जिलों के स्कूल बंद, निर्माण कार्यों पर भी रोक

हरियाणा में बढ़ते वायु प्रदूषण के कारण हालात खराब हैं।अधिकतर शहरों खासकर एनसीआर के अंतर्गत आने वाले शहरों में वायु प्रदूषण का स्‍तर फिर बढ़ गया है।

हरियाणा के चार जिलों के स्कूल बंद (एक्सप्रेस फोटो/प्रतीकात्मक)

खतरनाक वायु प्रदूषण को लेकर हरियाणा सरकार ने गुरुग्राम, सोनीपत, फरीदाबाद और झज्जर के सभी स्कूलों को अगले आदेश तक बंद करने का आदेश दिया है। इन जिलों में सभी प्राइवेट और सरकारी स्कूल अगले आदेश तक बंद रहेंगे। सभी निर्माण गतिविधियों पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है। वहीं, डीजल जेनरेटर सेटों के संचालन पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा।

इसके पहले, इन चारों जिलों में स्कूलों को बंद किया गया था, लेकिन प्रदूषण की स्थिति सामान्य होने के बाद उन्हें फिर से खोलने का आदेश जारी किया गया था। हालांकि, अब पर्यावरण विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव द्वारा जारी आदेशों में स्कूलों को बंद करने को कहा गया है।

एनजीटी की तरफ से वायु प्रदूषण को कम करने के लिए विभिन्न राज्य सरकारों को निर्देश दिए गए हैं, जिसके बाद हरियाणा के पर्यावरण विभाग ने एनसीार में आने वाले14 जिलों में निर्माण कार्य बंद कर दिए हैं जिससे प्रदूषण के स्तर को कम किया जा सके। पर्यावरण विभाग ने अपने आदेश में साफ किया है कि इन जिलों में प्लंबर, बिजली और बढ़ई के काम जारी रहेंगे।

सुप्रीम कोर्ट के रुख को देखते हुए अतिरिक्त मुख्य सचिव ने एनसीआर में आने वाले 14 जिलों में एयर क्वालिटी सुधारने के लिए अलग-अलग आदेश जारी किए हैं। इसके साथ ही संबंधित जिलाें के डीसी और अन्य अधिकारियों को इन निर्देशों को सख्ती से अमल में लाने को कहा गया है।

14 जिलों में डीजल के जेनरेटर सेट चलाने पर भी रोक

वहीं, हरियाणा सरकार ने 14 जिलों में डीजल के जेनरेटर सेट चलाने पर भी रोक लगा दी है। इसके अतिरिक्त, विभाग को निर्देश दिए गए हैं कि इन सभी जिलों में बिजली आपूर्ति बाधित नहीं होनी चाहिए। जेनरेटर बंद होने से किसी उद्यमी का कामकाज प्रभावित नहीं हो पाए, इसका ध्यान रखा जाए।

बता दें कि हरियाणा में बढ़ते वायु प्रदूषण के कारण हालात खराब हैं।अधिकतर शहरों खासकर एनसीआर के अंतर्गत आने वाले शहरों में वायु प्रदूषण का स्‍तर फिर बढ़ गया है। इससे पहले भी गुरुग्राम और फरीदाबाद सहित एनसीआर के शहरों में स्‍कूलों को प्रदूषण के स्तर बढ़ने के बाद बंद कर दिया गया था।

पढें राष्ट्रीय (National News) खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News)के लिए डाउनलोड करें Hindi News App.

अपडेट