ताज़ा खबर
 

अर्णब-कामरा विवादः Air India धोखे का ‘शिकार’, एक जैसे नाम की वजह से US के कुणाल कामरा को उड़ान भरने में हुई परेशानी

अब कुणाल कामरा जैसा नाम होने के चलते बोस्टन निवासी और वर्तमान में अपने परिवार के साथ भारत आए दूसरे कुणाल कामरा को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा।

kunal kamraमशहूर स्टैंड-अप कॉमेडियन कुणाल कामरा

मशहूर स्टैंड-अप कॉमेडियन कुणाल कामरा एक बार फिर सुर्खियों में हैं। हाल के दिनों में वो तब सुर्खियों में आए जब उन्होंने विमान में टीवी एंकर अर्णब गोस्वामी की मंजूरी के बिना जबरन सवाल पूछे और कथित तौर पर ‘हेकलिगं’ की। कामरा के इस व्यवहार के बाद इंडिगो एयरलाइंस ने उनके हवाई उड़ान भरने पर छह महीने का प्रतिबंध लगा दिया। इसके बाद एयर इंडिया, स्पाइसजेट, गोएयर एयरलाइन्स ने भी छह माह के लिए बैन कर दिया। अब कुणाल कामरा जैसा नाम होने के चलते बोस्टन निवासी और वर्तमान में अपने परिवार के साथ भारत आए दूसरे कुणाल कामरा को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा। उन्हें कई घंटों तक जयपुर एयरपोर्ट पर उड़ान भरने के लिए इंतजार करना पड़ा।

इंडिया टुडे डॉट इन ने इस घटना पर बोस्टन निवासी कुणाल कामरा से बातचीत की। उन्हें तीन फरवरी, 2020 को एयर इंडिया के विमान में जयपुर से मुंबई के लिए उड़ान भरनी थी। कामरा जैसे ही चैक-इन काउंटर पर पहुंचे, तो बताया गया कि उनका पीएनआर कैंसल कर दिया गया है। कामरा कहते हैं, ‘मुझे बताया गया कि मेरा पीएनआर कैंसल कर दिया गया है। मैंने इसकी वजह पूछी तो बताया गया कि मेरा नाम ब्लैकलिस्ट में है। मैं नहीं समझ पाया कि मुझे ही क्यों ब्लैकलिस्ट किया गया। हालांकि मुझे पता था कि दूसरे कुणाल कामरा को ब्लैकलिस्ट किया गया था।’

कामरा ने आगे बताया कि एयर इंडिया का ग्राउंड क्रू काफी मददगार था, मगर मेरे लिए यह नापसंद अनुभव था। बोस्टन निवासी कामरा ने आगे कहा, ‘एयर इंडिया के लोग बहुत मददगार थे। किस्मत से उड़ान भरने से पहले मेरे पास प्रर्याप्त समय था, इसलिए सबकुछ सुलझा लिया गया। वो मेरे लिए एक और टिकट जारी करने में सक्षम थे और मैंने साबित किया कि मैं दूसरा कुणाल कामरा हूं।

उन्होंने आगे कहा कि हालांकि मुझे उड़ान भरने से पहले सूचित नहीं किया गया कि मेरा टिकट कैंसल कर दिया गया। मुझे उचित स्पष्टीकरण भी नहीं मिला कि मेरा टिकट क्यों रद्द किया गया। मेरा टिकट बस इसलिए रद्द कर दिया गया क्योंकि मेरा नाम दूसरे व्यक्ति जैसा है। समस्या यह है कि अगर आप मेरे नाम के आधार पर मेरा टिकट रद्द करना चाहते हैं, तो यह स्वीकार्य नहीं है क्योंकि बहुत से लोगों का नाम एक जैसा हो सकता है। बता दें कि कुणाल को ये साबित करने के लिए दो अलग-अलग आईडी कार्ड दिखाने पड़े कि वो दूसरे कुणाल कामरा हैं, वो नहीं जिनपर उड़ान भरने से बैन लगाया गया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश पहुंचा कोरोना वायरस! हॉस्पिटल में भर्ती कराए गए संदिग्ध
2 ‘हम बाबरी मस्जिद नहीं भूलेंगे’, पीएम ने किया राम मंदिर ट्रस्ट का ऐलान तो बोले असदुद्दीन ओवैसी
3 2012 दिल्ली गैंगरेपः केंद्र, दिल्ली सरकार ने HC के आदेश को दी चुनौती, याचिका दायर
IPL 2020 LIVE
X