ताज़ा खबर
 

वायुसेना के लापता विमान का अब तक नहीं मिला कोई सुराग, तलाश जारी-चिंताएं बढ़ी

भारतीय वायुसेना का रूस में निर्मित यह विमान शुक्रवार (22 जुलाई) को ताम्बरम वायुसेना ठिकाने से पोर्ट ब्लेयर के लिए उड़ान भरने के कुछ ही घंटे बाद लापता हो गया।

Author चेन्नई | Updated: July 23, 2016 9:07 PM
Air Force Plane, IAF Plane missing, Manohar Parrikar, Chennai to Port Blair, IAF Plane, Manohar parrikar newsचेन्नई पहुंचे रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को लापता हुए वायुसेना विमान के बारे में जानकारी देते नौसेना अधिकारी। (पीटीआई फोटो)

भारतीय वायुसेना के 29 लोगों को ले जा रहे एएन32 विमान के लापता होने के बाद से उसका कोई पता नहीं लगने के कारण चिंताएं बढ़ रही हैं जबकि पता लगाने वाले दलों ने बंगाल की खाड़ी में शनिवार (23 जुलाई) को अपने प्रयास तेज कर दिए। हालांकि बंगाल की खाड़ी में खराब मौसम एक अड़चन बन सकता है। रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर आज (शनिवार, 23 जुलाई) सुबह यहां पहुंचे तथा उन्होंने करीब दो घंटे तक हवाई दौरा किया। नौसेना एवं तटरक्षक बल की पनडुब्बियों सहित 18 पोत तथा आठ विमान लापता विमान को ढूंढने के लिए लगाए गए हैं। भारतीय वायुसेना का रूस में निर्मित यह विमान ताम्बरम वायुसेना ठिकाने से पोर्ट ब्लेयर के लिए उड़ान भरने के कुछ ही घंटे बाद लापता हो गया। इसका अंतिम रेडियो सम्पर्क उड़ान भरने के 16 मिनट बाद सुबह आठ बजकर 46 मिनट पर हुआ था।

अधिकारियों के लिए चिंताएं बढ़ती जा रही हैं क्योंकि समय बीतता जा रहा है तथा अभियान से अभी तक कोई सकारात्मक संकेत नहीं मिला। विमान लापता होने की खबर मिलने के कुछ ही समय बाद यह अभियान शुरू कर दिया गया था। रक्षा सूत्रों ने बताया कि पर्रिकर ने इस अभियान की स्वयं समीक्षा की तथा निर्देश दिया कि यदि इस उद्देश्य के लिए अधिक संसाधनों की जरूरत है तो उन्हें इस काम में लगाया जा सकता है। रक्षा मंत्री को उन कठिन परिस्थितियों के बारे में अवगत कराया गया जिनमें पिछले 24 घंटे में यह अभियान चलाया जा रहा है।

सूत्रों ने बताया कि समुद्र बहुत अशांत है तथा क्षेत्र में गहरे बादल छाये हुए हैं। पर्रिकर ने सभी कमांडरों को निर्देश दिया कि वे परिवारों से सम्पर्क बनाएं रखें और उन्हें सूचनाएं मुहैया करायें। पर्रिकर को यहां के समीप ताम्बरम में वायुसेना एवं नौसेना ने जानकारी दी। इसके बाद वह नौसेना के अराकोणम ठिकाने से नौसेना के पी 81 विमान में सवार हुए तथा उन्होंने बंगाल की खाड़ी में तलाश एवं बचाव अभियान की समीक्षा की। विमान में सवार नौसेना एवं वायुसेना के कर्मियों ने उन्हें जानकारी दी। इसके बाद पर्रिकर अराकोणम गये और उन्होंने भारतीय वायुसेना, नौसेना एवं तटररक्षक बल द्वारा संयुक्त रूप से चलाये जा रहे अभियान की समीक्षा की।

रक्षा मंत्री के साथ वायुसेना प्रमुख अरूप राहा सहित वायुसेना के विभिन्न अधिकारी मौजूद थे। उन्हें इसके बाद अराकोणम नौसेना केन्द्र में जानकारी दी गयी जो चेन्नई से करीब 50 मिलोमीटर दूर है। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने ट्वीट किया, ‘माननीय आरएम (रक्षामंत्री) एट द रेट ऑफ मनोहर पर्रिकर को अभियान के बारे में जानकारी दी जा रही है जो पी 81 की तलाशी के लिए चलाया जा रहा है।’ वायुसेना के इस विमान में 29 लोग शामिल थे। इनमें दो पायलट सहित चालक दल के छह सदस्य शामिल थे। लापता विमान में एक महिला सहित वायुसेना के 11 कर्मी, थलसेना के दो, तटरक्षक बल के एक तथा नौसेना के नौ कर्मी सवार थे।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 यूपी: कांग्रेस की बस यात्रा को शुरुआत में ही झटका, सीएम कैंडिडेट शीला की बिगड़ी तबीयत, बीच रास्‍ते से लौटीं
2 काबुल में अगवा की गई भारतीय महिला स्वदेश पहुंची, नरेंद्र मोदी-सुषमा स्वराज से की मुलाकात
3 सुषमा का नवाज शरीफ पर पलटवार, कहा- पाक का कभी नहीं होगा कश्मीर, ना देखें सपना
ये पढ़ा क्या?
X