ताज़ा खबर
 

Delhi Violence: ‘प्रधानमंत्री जी आपने जो सांप पाला है ना वह आपको ही काट लेगा’, दिल्ली हिंसा को लेकर ओवैसी ने पूर्व भाजपा विधायक पर साधा निशाना

Delhi Violence: भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने रविवार को मौजपुर में सीएए के समर्थन में भाषण दिया था। उन्होंने दिल्ली पुलिस को खुलेआम चेतावनी दी थी कि अगर सीएए के खिलाफ प्रदर्शनकारियों को रास्ते से नहीं हटाया गया, तो वे लोग किसी की भी नहीं सुनेंगे।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र हैदराबाद | Published on: February 25, 2020 11:32 AM
एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी। (एक्सप्रेस फोटो)

CAA-NRC-NPR Protest Delhi Violence: ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असद्दुदीन ओवैसी ने दिल्ली में नागरिकता संशोधन कानून पर हुई हिंसा को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तंज कसा है। हैदराबाद में सीएए-एनआरसी और एनपीआर के विरोध में रखी गई एक बैठक में ओवैसी ने कहा, “हम प्रधानमंत्री को बताना चाहेंगे कि जो सांप आपने घर के पीछे पाला है, वह आपको ही काट लेगा।”

ओवैसी ने इशारों में भाजपा नेता कपिल मिश्रा पर भी निशाना साधा। उन्होंने हिंसक घटनाओं की निंदा करते हुए कहा, “यह दंगे एक पूर्व विधायक की वजह से हो रहे हैं। अब इसमें पुलिस के शामिल होने के साफ सबूत हैं। पूर्व विधायक को तुरंत गिरफ्तार करना चाहिए और जल्द से जल्द हिंसा रोकने के लिए कदम उठाए जाने चाहिए। वर्ना यह और फैल जाएंगे।”

‘गृह मंत्री दिल्ली में शांति स्थापित करें’: इसी के साथ ओवैसी ने कहा कि गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली में शांति स्थापित करवाएं। उन्होंने दिल्ली की जनता से अपील की कि वे दिल्ली पुलिस पर हिंसा रुकवाने के लिए दबाव बनाएं।

जाफराबाद-मौजपुर हिंसा में क्यों उछला कपिल मिश्रा का नाम?: भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने रविवार को मौजपुर में सीएए के समर्थन में भाषण दिया था। उन्होंने दिल्ली पुलिस को खुलेआम चेतावनी दी थी कि अगर सीएए के खिलाफ प्रदर्शनकारियों को रास्ते से नहीं हटाया गया, तो वे लोग किसी की भी नहीं सुनेंगे।

बताया जा रहा है कि कपिल मिश्रा के भाषण के आधे घंटे बाद ही मौजपुर में झड़प शुरू हो गई थी। हिंसा के बाद मिश्रा ने ट्वीट कर कहा था कि जब तक अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप भारत में हैं, हम इलाके को शांति से छोड़ रहे हैं। इसके बाद हम आपकी (पुलिस) की भी नहीं सुनेंगे। जाफराबाद-मौजपुर में सोमवार को हुई हिंसा में एक पुलिस कॉन्सटेबल समेत सात लोगों की मौत हुई है।

इस बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राष्ट्रीय राजधानी में हालात का जायजा लेने के लिए एक बैठक बुलाई है। इस बैठक में उप राज्यपाल अनिल बैजल, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और विभिन्न दलों के प्रतिनिधियों को बुलाया गया है। गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि शाह ने दिल्ली के हालात पर चर्चा के लिए एक बैठक बुलाई है। इससे पहले शाह ने राष्ट्रीय राजधानी में कानून व्यवस्था की स्थिति की समीक्षा के लिए सोमवार रात को भी एक बैठक की थी।

Next Stories
1 दलित श्रद्धालु को कंधे पर बिठा कर मंदिर में ले गया पुजारी, सनातन धर्म की पेश की मिसाल
2 Aaj Ki Baat- 25 feb | ट्रंप की भारत यात्रा का दूसरा दिन, ‘खुशियों की क्लास’ देखने पहुंचेंगी मेलानिया ट्रंप मुलाकात हर खास खबर Jansatta के साथ
3 Delhi Violence: हिन्दू भाई हो? हां में सिर हिलाया तो जाने दिया, पुलिस कमिश्नर ने समझाया तो एक शख्स चिल्लाया- कपिल मिश्रा का कराया है ये सब
ये पढ़ा क्या?
X