ताज़ा खबर
 

असदुद्दीन ओवैसी की रैली में लगाए ‘PAK जिंदाबाद’ के नारे, लड़की पर राजद्रोह का केस; AIMIM चीफ बोले- हमसे लेना-देना नहीं

लड़की को किसी तरह वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों और अन्य लोगों ने जबरन मंच से उतारा।

मंच पर चढ़ लड़की ने काटा जमकर हंगामा। फोटो: PTI

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (AIMIM) चीफ असदुद्दीन ओवैसी की रैली में गुरुवार को जमकर हंगामा हुआ। CAA (संशोधित नागरिकता कानून) विरोधी इस सभा को जब वह संबोधित कर रहे थे, तभी मंच पर अचानक एक लड़की आ पहुंची। वह जोर-जोर से पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने लगी। हालांकि, उसने इससे पहले हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे भी लगाए और कहा कि इन दोनों में फर्क है। लड़की के इतना कहते ही मंच पर मौजूद लोगों ने उससे माइक छीन लिया। लड़की पर भारतीय दंड संहिता की धारा 124 ए (देशद्रोह) के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है और पूछताछ के बाद अदालत में पेश किया जाएगा।

लड़की की नारेबाजी देख वहां सबके तोते उड़ गए। ओवैसी का रिएक्शन भी देखने लायक था। वह भी पीछे खड़े तमाशा देख रहे थे। इसी बीच, मौके पर मौजूद कुछ लोगों ने उससे माइक छीना और उसे काबू कर वहां से हटाया। पूरे वाकये के बाद ओवैसी ने अपना पल्ला झाड़ा और साफ किया उस लड़की से उनकी पार्टी का कोई लेना देना नहीं है। बकौल AIMIM चीफ, “मेरे लिए भारत जिंदाबाद था और आगे भी रहेगा।”

मामला कर्नाटक के बेंगलुरू का है, जहां रैली में बवाल काटने वाली लड़की की पहचान अमूल्य के तौर पर हुई है। समाचार एजेंसी ANI ने घटना से जुड़ा वीडिया साझा किया है, जिसमें वह जोर-जोर से नारे लगाती दिख रही थी। देखें, क्या हुआ था उस दौरानः

इतना ही नहीं, लड़की ने मंच से भीड़ को ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाने के लिए कहा। हालांकि, हालात काबू से बाहर होते देख सुरक्षाकर्मियों ने उसे वहां से फौरन हटाया। फिर भी वह नहीं मानी और अपनी बात जोर-जोर से कहती रही।

वहीं, न्यूज एजेंसी PTI की रिपोर्ट में बताया गया कि लड़की की नारेबाजी से ओवैसी भड़क उठे थे। उन्होंने कहा, “अगर मुझे पता होता कि रैली में ऐसे लोग मौजूद हैं तो मैं यहां कभी नहीं आता।” सफाई में वह बोले- लड़की ने जो किया, मैं उसकी कड़ी निंदा करता हूं। उससे हमारा कोई वास्ता नहीं। हमारे लिए हिंदुस्तान जिंदाबाद था और रहेगा। वहीं जद (एस) के नगरसेवक इमरान पाशा ने दावा किया कि रैली को बाधित करने के लिए कुछ प्रतिद्वंद्वी समूहों ने लड़की को मंच पर भेजा है। लड़की का नाम स्पीकर्स की लिस्ट में शामिल नहीं था। इस मामले की तुरंत जांच होनी चाहिए।’

वहीं बीजेपी ने इस पूरे घटनाक्रम के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है। कर्नाटक बीजेपी ने एक ट्वीट में कहा ‘सच तो यह है कि सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन पाकिस्तान और देश विरोधी ताकतों की मिली-जुली साजिश है। जो भी पाकिस्तान का समर्थन करते हैं वह हमेश के लिए वहीं चले जाए।

Next Stories
1 शाहीन बाग पर टीवी ड‍िबेट: मौलाना अंसार रजा को एंकर ने चेताया- द‍िमाग का फ‍ितूर शांत रख‍िए
2 MP अजब है! डॉक्टर की कुर्सी खाली थी तो बैठ गया मानसिक रोगी, दर्जन भर से ज्यादा मरीजों को लिखी दवा; बात खुली तो मची खलबली
3 आजमगढ़ की अनाबिया को मिली ‘प्रियंका आंटी’ की चिट्ठी और गिफ्ट, लिखा- ऐसे ही हमेशा मेरी ब्रेव गर्ल रहना
Coronavirus LIVE:
X