ताज़ा खबर
 

दुबई से निर्वासित दाऊद का करीबी फारूक टकला लाया गया मुंबई, 1993 बम धमाकों का भी है आरोपी

टकला के खिलाफ साल 1995 में रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था। वह 1993 ब्लास्ट के बाद से ही भारत से फरार हो गया था। उसे फिलहाल मुंबई स्थित सीबीआई ऑफिस में रखा गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक दोपहर तक उसे टाडा कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा।

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम (फाइल फोटो)

1993 में हुए मुंबई सीरियल ब्लास्ट के मुख्य आरोपी और अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के करीबी और हमलों में सहयोगी रहे फारूक टकला को गुरुवार सुबह मुंबई लाया गया है। दुबई से निर्वासित किए जाने के बाद टकला को एयर इंडिया की फ्लाइट एआई 1996 से भारत लाया गया। टकला के खिलाफ साल 1995 में रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था। वह 1993 ब्लास्ट के बाद से ही भारत से फरार हो गया था। उसे फिलहाल मुंबई स्थित सीबीआई ऑफिस में रखा गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक दोपहर तक उसे टाडा (टेररिस्ट एंड डिसरप्टिव एक्टिविटी (प्रिवेंशन) एक्ट) कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा।

इस मामले पर एनसीपी नेता और वरिष्ठ क्रिमिनल वकील मजीद मेमन ने कहा, ‘वह लौट आया है, इससे यह प्रदर्शित होता है कि वह ट्रायल देने के लिए तैयार है। उसे निश्चित रूप से हिरासत में भेज दिया जाएगा। जमानत मिलने का तो कोई सवाल ही नहीं पैदा होता। उसे फिलहाल जेल में ही रखा जाएगा।’ फारूक टकला के मामले पर वरिष्ठ वकील उज्ज्वल निकम ने कहा, ‘यह बहुत बड़ी सफलता है। वह मुंबई 1993 हमलों में भी शामिल था। यह डी-गैंग के लिए बहुत बड़ा झटका है।’ बता दें कि मुंबई में साल 1993 में लगातार 13 बम धमाके हुए थे। इन धमाकों में 257 लोगों की मौत हो गई थी, तो वहीं 713 लोग घायल हुए थे। करीब 27 करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी का नुकसान भी हुआ था।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 10 मार्च को आरएसएस में बड़ा चुनाव, ऐसे चुना जाएगा सबसे बड़े गैरसरकारी संगठन का सबसे बड़ा अफसर
2 बीजेपी के राज्यसभा उम्मीदवारों के नाम तय, यूपी से उच्च सदन जाएंगे अरुण जेटली
3 जया बच्‍चन फिर बनीं सपा उम्‍मीदवार: 2014 राज्‍यसभा चुनाव के वक्‍त अमर सिंह ने उन्‍हें कहा था ओछा, अब की तारीफ
ये पढ़ा क्या?
X