aide of Dawood Ibrahim and accused of 1993 mumbai blasts Farooq Takla brought to Mumbai after being deported from Dubai - दुबई से निर्वासित दाऊद का करीबी फारूक टकला लाया गया मुंबई, 1993 बम धमाकों का भी है आरोपी - Jansatta
ताज़ा खबर
 

दुबई से निर्वासित दाऊद का करीबी फारूक टकला लाया गया मुंबई, 1993 बम धमाकों का भी है आरोपी

टकला के खिलाफ साल 1995 में रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था। वह 1993 ब्लास्ट के बाद से ही भारत से फरार हो गया था। उसे फिलहाल मुंबई स्थित सीबीआई ऑफिस में रखा गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक दोपहर तक उसे टाडा कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा।

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम (फाइल फोटो)

1993 में हुए मुंबई सीरियल ब्लास्ट के मुख्य आरोपी और अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के करीबी और हमलों में सहयोगी रहे फारूक टकला को गुरुवार सुबह मुंबई लाया गया है। दुबई से निर्वासित किए जाने के बाद टकला को एयर इंडिया की फ्लाइट एआई 1996 से भारत लाया गया। टकला के खिलाफ साल 1995 में रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया गया था। वह 1993 ब्लास्ट के बाद से ही भारत से फरार हो गया था। उसे फिलहाल मुंबई स्थित सीबीआई ऑफिस में रखा गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक दोपहर तक उसे टाडा (टेररिस्ट एंड डिसरप्टिव एक्टिविटी (प्रिवेंशन) एक्ट) कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा।

इस मामले पर एनसीपी नेता और वरिष्ठ क्रिमिनल वकील मजीद मेमन ने कहा, ‘वह लौट आया है, इससे यह प्रदर्शित होता है कि वह ट्रायल देने के लिए तैयार है। उसे निश्चित रूप से हिरासत में भेज दिया जाएगा। जमानत मिलने का तो कोई सवाल ही नहीं पैदा होता। उसे फिलहाल जेल में ही रखा जाएगा।’ फारूक टकला के मामले पर वरिष्ठ वकील उज्ज्वल निकम ने कहा, ‘यह बहुत बड़ी सफलता है। वह मुंबई 1993 हमलों में भी शामिल था। यह डी-गैंग के लिए बहुत बड़ा झटका है।’ बता दें कि मुंबई में साल 1993 में लगातार 13 बम धमाके हुए थे। इन धमाकों में 257 लोगों की मौत हो गई थी, तो वहीं 713 लोग घायल हुए थे। करीब 27 करोड़ रुपए की प्रॉपर्टी का नुकसान भी हुआ था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App