बजट की बात कर कृषि मंत्री ने की किसानों को मनाने की कोशिश, यूनियन ने कर दिया चक्का जाम का ऐलान

बजट पेश करने के बाद कृषि मंत्री ने ट्विटर पर लिखा कि मोदी सरकार की किसानों की आय दोगुना करने की ओर काम कर रही है। यूपीए सरकार से करीब तीन गुना राशि मोदी सरकार ने किसानों के खातों में पहुंचाई है।

Farmer protest , farm laws, ministerकेंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर। (फोटो- एएनआई)

कल सोमवार को संसद में 2021-22 का बजट पेश किया गया। बजट पेश के बाद कृषि मंत्री ने आंदोलन कर रहे किसानों को साधने की कोशिश की। जहाँ एक तरफ कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने किसानों को बजट से होने वाले फायदों को गिनाना शुरू किया। वहीँ दूसरी तरफ किसान नेताओं ने कल की प्रेस कॉन्फ्रेंस में 6 फ़रवरी को चक्का जाम का ऐलान कर दिया।

बजट पेश करने के बाद कृषि मंत्री ने ट्विटर पर लिखा कि मोदी सरकार की किसानों की आय दोगुना करने की ओर काम कर रही है। यूपीए सरकार से करीब तीन गुना राशि मोदी सरकार ने किसानों के खातों में पहुंचाई है। सरकार की ओर से हर सेक्टर में किसानों को मदद दी गई है, दाल, गेंहू, धान समेत अन्य फसलों की एमएसपी बढ़ाई गई। साथ ही मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि MSP पर फसल खरीद का कार्य तेजी से जारी है, इसके परिणामस्वरूप किसानों को पर्याप्त भुगतान किए जाने के मामले में बढ़ोत्तरी हुई है। 2020-21 में किसानों को कुल 75,060 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया

इसके अलावा मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने यह भी कहा कि कृषि सुधार बिलों की दृष्टि से जिन लोगों के मन में शंका है वो इस बजट से निर्मूल हो जानी चाहिए। इस बज़ट में MSP के प्रति प्रतिबद्धता भी जाहिर की है और APMC को सशक्त बनाने की दृष्टि से भी सरकार ने ध्यान रखा है। साथ ही मंत्री ने यह भी कहा कि इस बजट में 16.5 लाख करोड़ रुपये का ऋण किसानों को मिलेगा। APMC सशक्त हो सकेंगे, बड़े इंफ्रास्ट्रक्चर वहां खड़े हो सकेंगे, इसके लिए 1 लाख करोड़ रुपये के इंफ्रास्ट्रक्टर फंड में APMC को शामिल किया गया है।

हालाँकि किसान नेता कृषि मंत्री की इन बातों से संतुष्ट नहीं हो सके। किसान नेताओं ने कल सोमवार को आयोजित प्रेस कांफ्रेस में कहा कि 6 फरवरी को पूरे देश में दिन में 12 बजे से 3 बजे तक राष्ट्रीय और राज्य मार्गों का चक्का जाम किया जाएगा। किसान नेताओं ने कहा है कि सरकार कृषि बिल वापस लेने को तैयार नहीं है। इसलिए हमारा प्रदर्शन जारी रहेगा और जरुरत पड़ने पर इस को आगे भी बढाया जाएगा। साथ ही किसान नेताओं ने कहा है कि हमें देशभर से समर्थन भी मिल रहा है। उम्मीद है कि 6 तारीख होने वाले चक्का जाम का असर देशभर में देखने को मिलेगा। 

हालाँकि प्रदर्शन को देखते हुए दिल्ली पुलिस ने सभी सीमाओं पर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी है। साथ ही इंटरनेट पर लगी रोक को भी 2 तारीख तक के लिए बढ़ा दिया गया है। 

Next Stories
1 Budget 2021: आपके पीएफ पर सरकार की नज़रें, ज्यादा बचा रहे हैं तो नहीं मिलेगी छूट, देना होगा टैक्स
2 बजट 2021: कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, बजट था या बेचने की प्रतियोगिता, बैंक बेच दो, रेल बेच दो, ज़फर इस्लाम का जवाब
3 गुजरात में 60 साल में रिटायर होंगे भाजपा नेता, गुजरात चीफ बोले- रिश्तेदारों को भी नहीं मिलेगा टिकट
ये पढ़ा क्या?
X