निहंग और कृषि मंत्री की मुलाकात की तस्वीरें हो रही हैं VIRAL, कांग्रेस ने अपनाया आक्रामक रुख, कहा- धीरे-धीरे उठ रहा है पर्दा

निहंग सिखों के एक मुखिया बाबा आनंद के साथ कृषि मंत्री की फोटो खूब वायरल हो रही है। इसी ग्रुप के निहंग सिख ने सिंघु बॉर्डर पर बेअदबी के मामले में एक शख्स की हत्या कर दी थी।

agriculture minister meeting with nihang chief, singhu border, farmer protest
निहंग सिख प्रमुख बाबा आनंद के साथ कृषि मंत्री की मुलाकात (फोटो- @LaxmiNa23328592)

निहंग सिखों के एक मुखिया अमन सिंह और केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के बीच मुलाकात की तस्वीरें वायरल होने के बाद से कांग्रेस, मोदी सरकार पर हमलावर हो गई है। बताया जा रहा है कि बाबा अमन सिंह उस निहंग समूह का मुखिया है, जिसने सिंघु बॉर्डर पर बेअदबी का आरोप लगाकर एक व्यक्ति का हाथ काटकर हत्या कर दी थी। इस समूह के चार निहंगों को पहले ही हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया जा चुका है।

बाबा अमन सिंह, निहंग संप्रदायों के कनाडा में स्थित एक सिख समूह के प्रमुख है। द ट्रिब्यून के अनुसार सरकार द्वारा किसानों के आंदोलन को समाप्त करने के लिए पर्दे के पीछे के प्रयासों में अमन सिंह की भूमिका हो सकती है।

सूत्रों के अनुसार केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, बर्खास्त सिपाही और हत्या के दोषी गुरमीत ‘पिंकी’ और भाजपा किसान मोर्चा के सुखमिंदरपाल सिंह ग्रेवाल ने जुलाई के अंत में नई दिल्ली स्थित कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी के बंगले पर ये मुलाकात की थी। फोटो के सामने आने पर सुखमिंदरपाल सिंह ग्रेवाल ने कहा कि हमने पंजाब में सांप्रदायिक सद्भाव को बिगाड़ने वाले कृषि आंदोलन का सौहार्दपूर्ण समाधान खोजने के लिए बैठकें की हैं। ऐसी ही एक बैठक में बाबा अमन सिंह शामिल हुए। वह भी चाहते थे कि इस मुद्दे को सुलझाया जाए। ओंटारियो सिख और गुरुद्वारा परिषद हमारे प्रयास में हमारी मदद कर रही है।

बैठक में अपनी मौजुदगी की पुष्टि करते हुए गुरमीत ‘पिंकी’ ने कहा कि वह निहंग बाबा को काफी पहले से जानते हैं। कृषि मंत्री से जुड़े स्टाफ के दो सदस्यों ने कहा कि निहंग नेता किसानों के साथ हुई बातचीत का “हिस्सा नहीं” थे। कैलाश चौधरी ने कॉल या मैसेज का कोई जवाब नहीं दिया। बाबा अमन सिंह ने बैठक के संबंध में सवालों को खारिज करते हुए कहा कि वह हर दिन कई नेताओं से मिलते हैं।

इस मुलाकात को लेकर अब राजनीतिक गलियारों में बीजेपी और निहंग के बीच साठ गांठ के आरोप लग रहे हैं। कांग्रेस इस मुद्दे पर सीधे सरकार को घेर रही है। पार्टी नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि सच सामने आ ही रहा है। परतें उठ रही हैं, पर्दा खुल रहा है। कौन असल में पर्दे के पीछे किसके साथ खड़ा है? कौन किसानों के खिलाफ क्या षड्यंत्र कर रहा है?

कांग्रेस नेता गौरव पांधी ने कहा कि क्या सिंघु लिंचिंग किसानों के आंदोलन को अस्थिर करने के लिए भाजपा की सुनियोजित साजिश थी? रिपोर्ट के अनुसार आरोपी को भाजपा नेताओं के साथ घूमते हुए देखा गया था! पंजाब की जनता को बदनाम करने के लिए बीजेपी हर रोज नए निम्न स्तर पर जा रही है!

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

Next Story
भाजपा और आप के खिलाफ कांग्रेस ने किया प्रदर्शनCongress opened secrets BJP AAP
अपडेट