ताज़ा खबर
 

आंदोलन: किसानों ने रागिनी गाकर केंद्र सरकार को कोसा

किसानों ने कहा कि पहली बार हो रहा है कि किसान संगठनों से सरकार शर्तों पर बात करने को तैयार हैं।बुराड़ी स्थित संत निरंकारी ग्राउंड को किसानों ने खुला जेल बताया है।

Author नई दिल्ली | December 1, 2020 8:35 AM
Movementकिसान अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन करते हुए। फाइल फोटो।

निर्भय कुमार पांडेय

उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों से बड़ी संख्या में ट्रैक्टर-ट्राली लेकर आए किसान बीते कई दिनों से गाजीपुर के पास दिल्ली गेट पर डटे हुए हैं। किसानों की मांग है कि पुलिस उन्हें रामलीला मैदान, जंतर मंतर या फिर बोट क्लब पर जाने की अनुमति दें, तभी आगे बढेंगे, नहीं तो वह दिल्ली गेट पर ही डटे रहेंगे।

किसानों ने सोमवार को केंद्र की भाजपा सरकार को रागिनी गाकर कोसा। किसानों ने कहा कि पहली बार हो रहा है कि किसान संगठनों से सरकार शर्तों पर बात करने को तैयार हैं। बुराड़ी स्थित संत निरंकारी ग्राउंड को किसानों ने खुला जेल बताया है।

किसान बलबीर सिंह का कहना है कि यदि एक बार वहां पहुंच गए तो उनकी बातों को कोई सुनने वाला नहीं होगा। यदि सरकार चाहती है कि किसानों से बातचीत की जाए तो सरकार को दिल्ली में वही स्थान मुहैया करवाना होगा, जहां इससे पहले प्रदर्शन या फिर धरना होते रहे हैं। सरकार एक साजिश के तहत किसानों को वहां भेजने की तैयारी कर रही है। वहीं, सतपाल सिंह का कहना है कि सरकार यदि बातचीत करना चाहती है तो डर क्यों रही है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पिता ने शहला को बताया देशद्रोही तो पलटवार में बोलीं JNU छात्रा- वो औरतों को पीटने वाला भ्रष्ट इंसान; दिखाया ‘प्रमाण’
2 Farmers Protest HIGHLIGHTS: अकाली दल का दावा- जानबूझकर समझौते की प्रक्रिया को लंबा कर रही केंद्र सरकार, यह किसानों को थकाने की कोशिश
3 सम-सामयिक: कॉरपोरेट को बैंक लाइसेंस अनुमति से क्या बदलेगा
Ind Vs Aus 4th Test Live
X