ताज़ा खबर
 

कृषि कानूनः मंडी का मतलब MSP नहीं- टिकैत ने किया साफ; केंद्र पर कहा- इन्हें जाना पड़ेगा

भारतीय किसान यूनियन (BKU) के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने ओडिशा की अपनी पहली यात्रा में कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग दोहराई और कहा कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर कोई समझौता नहीं होगा।

farmers protest, rakesh tikait, MSP, modi governmet, BJP, BKU, farm bill, jansattaभारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत (source: PTI)

मोदी सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का आंदोलन नवंबर से लगातार जारी है। भारतीय किसान यूनियन (BKU) के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने ओडिशा की अपनी पहली यात्रा में कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग दोहराई और कहा कि न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर कोई समझौता नहीं होगा। टिकैत ने कहा कि मंडी का मतलब एमएसपी नहीं, हमें इसपर कानून चाहिए।

किसान नेता ने मीडिया से बात करते हुए कहा “सरकार को एमएसपी पर कानून बनान पड़ेगा, पूरे देश में बैठकें चल रही हैं तो असर तो पड़ेगा इसपर। सरकार को तीनों बिल वापस लेने पड़ेंगे और भी बहुत से बिल सरकार लेकर आ रही है। उनपर उन्हें बात करनी होगी। ये लुटेरों की सरकार है, ये देश में नहीं रहेगी, इनको जाना पड़ेगा।” टिकैत ने कहा “मंडी का मतलब MSP नहीं है। खरीद का मतलब है। जब कानून बन जाएगा तो पूरी खरीद होगी।”

टिकैत ने कहा “ओड़ीसा के किसानों भी इसका लाभ मिलेगा। पूरे देश में एमएसपी से कम पर फसलें बिकती हैं, कानून आने के बाद वो नहीं होगा, उसका किसानों को लाभ मिलेगा।” इसपर पत्रकार ने कहा कि यहां पत्र बहुत सी मंडियां हैं। इसपर किसान नेता ने कहा “मंडी का मतलब ये थोड़ी है कि म्स्प पर बिक रहा है। मंडी एक स्थान है जहां पर किसान अपनी फसल बेंच सकते हैं। जब कानून बनेगा तो कोई भी खरीदार उससे कम पर नहीं लेगा।”

टिकैत ने ओडिशा में सत्तारूढ़ BJD सरकार से भी आग्रह किया कि वह कृषि कानूनों को वापस लेने के लिए किसानों का समर्थन करे। टिकैत ने देश भर के किसानों के मुद्दों पर प्रकाश डाला और कहा कि केंद्र द्वारा पेश किए गए कृषि कानून “काले कानून” हैं और इन्हें जल्द से जल्द वापस लेने की आवश्यकता है।

टिकैत ने कहा, “मैं ओडिशा के प्रत्येक किसान को धन्यवाद देता हूं, जिन्होंने दिल्ली में चल रहे हमारे आंदोलन में भाग लिया। यह एक बड़ा प्रभाव डालता है। टिकैत ने कहा कि किसी भी परिस्थिति में विरोध करने वाले किसान MSP के साथ समझौता नहीं करेंगें।

Next Stories
1 कोरोनाः फिर लगेगा लॉकडाउन? 24 घंटे में 40 हजार से अधिक नए केस, सर्वाधिक प्रभावित 9 जिले महाराष्ट्र से
2 SP नेता चिल्लाए, बदकिस्मत हो कि बीवी-बच्चे नहीं; संबित पात्रा बोले- आपकी सांस बंद हो जाएगी
3 बीते साल भारत में दोगुनी हुई गरीबों की तादाद- प्यू रिसर्च रिपोर्ट
ये पढ़ा क्या?
X