ताज़ा खबर
 

बिजनेसमैन ने 21 कैदियों को दिया आजादी का तोहफा, 1.73 लाख का जुर्माना भर आगरा जेल से कराया आजाद

कैदियों ने अपनी सजा तो पूरी कर ली थी लेकिन वह कोर्ट द्वारा लगाई गई दंड की राशि को देने में सक्षम नहीं थे। इस वजह से सभी तय समय से ज्यादा समय तक जेल में बंद थे।

Agra District Jail, Agra, Independence Day, businessman, independence day, India Independence Day 2019, independence day 2019, independence day live, independence day flag hoisting, independence day flag hoisting live, independence day flag hoisting live streaming, independence day celebration, independence day celebration live, India independence day flag hoisting time, yogi government, up governmentजेल से रिहा हुए कैदी। फोटो: ANI

स्वतंत्रता दिवस के दिन एक बिजनेसमैन ने 21 कैदियों को आजादी का तोहफा दिया। बिजनसमैन ने 1.73 लाख का जुर्माना भर कैदियों को जेल से बाहर निकाला। मामला उत्तर प्रदेश के आगरा डिस्ट्रिक्ट जेल का है। यहां राजेश सहगल नाम के बिजनसमैन ने दिलेरी दिखाते हुए कैदियों को आजाद करवाया।

दरअसल इन सभी कैदियों ने अपनी सजा तो पूरी कर ली थी लेकिन वह कोर्ट द्वारा लगाई गई दंड की राशि को देने में सक्षम नहीं थे। इस वजह से सभी तय समय से ज्यादा समय तक जेल में बंद थे। कैदियों पर रहम दिखाते हुए सहगल ने 1.73 लाख का जुर्माना भरा और उन्हें आजादी दिलवा दी।

इस पर आगरा जिला जेल के अधीक्षक शशीकांत मिश्रा ने कहा कि हम राजेश सहगल के शुक्रगुजार हैं। उनकी वजह से ही आज 21 कैदियों को अपने-अपने परिवार के साथ रक्षा बंधन और स्वतंत्रता दिवस मनाने का मौका मिला। ये सभी जुर्माना नहीं भर पाने के कारण मजबूरी में जेल की सजा काट रहे थे। जेल प्रशासन सामाजिक कार्यकर्ताओं और परोपकारी लोगों से संपर्क कर जुर्माना न भर पाने वाले कैदियों की मदद के लिए प्रयास करता है। हमारे इसी प्रयास की वजह से आज इन कैदियों को रिहाई मिल सकी है।

जेल अधीक्षक के मुताबिक इन कैदियों की उम्र 18 से 35 वर्ष है। उन्होंने बताया कि जेल प्रशासन ने अपने इसी प्रयास के जरिए पिछले दो साल में अब तक 232 कैदियों को रिहाई दिलवाई है। मालूम हो कि उत्तर प्रदेश सरकार ने भी स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर प्रदेश की विभिन्न जेलों से 73 कैदियों को रिहा करने का निर्णय किया है। इस मौके पर राज्य सरकार जेल में बंद कैदियों पर नरमी दिखाते हुए यह फैसला लिया है। इनमें से कई कैदी ऐसे भी हैं जो जुर्माने की रकम नहीं चुका पा रहे थे, सरकार इन्हें भी रिहा करने का एलान किया है। बता दें कि अकसर ऐसे मौकों पर सरकार द्वारा ऐसा फैसला लिया जाता है।

Next Stories
1 डिबेट में बीजेपी प्रवक्ता बोले- मुझे ठीक करना आता है, तमीज में रहो वर्ना… कश्मीरी पैनलिस्ट ने पूछा, गोली मारोगे क्या?
2 छत्तीसगढ़ में 72% हुई आरक्षण की सीमा, OBC का 27 और SC का कोटा बढ़कर 13 फीसदी
3 जम्मू-कश्मीर पर UNSC में 16 अगस्त को हो सकती है गुप्त बैठक, चीन ने पाकिस्तान की तरफदारी में की थी मांग
ये पढ़ा क्या?
X