ताज़ा खबर
 

फिर उड़ी अटल बिहारी वाजपेयी की मौत की अफवाह, सोशल मीडिया पर लोग देने लगे श्रद्धांजलि

कई लोगों ने इस अफवाह को सच मानकर सोशल मीडिया पर अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि भी दे डाली। वहीं, कुछ लोगों ने सच्चाई जानकर स्पष्ट किया कि अटल बिहारी वाजपेयी की मौत की बात महज एक अफवाह है।

पूर्व प्रधानमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता अटल बिहारी वाजपेयी। (file photo)

पूर्व प्रधानमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता अटल बिहारी वाजपेयी की मौत की अफवाह गुरुवार को सोशल मीडिया पर छायी रही। इस दौरान कई लोगों ने इस अफवाह को सच मानकर सोशल मीडिया पर ही अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि भी दे डाली। वहीं, कुछ लोगों ने सच्चाई जानकर स्पष्ट किया कि अटल बिहारी वाजपेयी की मौत की बात महज एक अफवाह है। हालांकि, आधिकारिक तौर पर या फिर भारतीय जनता पार्टी की तरफ से इस संबंध में कोई बयान जारी नहीं किया गया। बता दें कि अटल बिहारी वाजपेयी पिछले काफी समय से बीमार हैं और सार्वजनिक जीवन से दूर हैं। दो बार देश के प्रधानमंत्री बनने वाले अटल बिहारी वाजपेयी भाजपा के बड़े नेताओं में शुमार किए जाते हैं।

अटल बिहारी वाजपेयी की मौत की अफवाह साल 2015 में भी फैली थी। तब ओडिशा के बालासोर के एक स्कूल में अटल बिहारी वाजपेयी की मौत की बात कहकर उनके निधन पर एक शोक सभा का आयोजन भी कर दिया गया था। इतना ही नहीं, इस अफवाह के बाद स्कूल में  छुट्टी भी कर दी गई थी। लेकिन जब जिलाधिकारी ने बताया कि यह खबर महज एक अफवाह है तो इसके बाद स्कूल के प्रधानाचार्य के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उन्हें बर्खास्त कर दिया गया था।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XA1 Dual 32 GB (White)
    ₹ 17895 MRP ₹ 20990 -15%
    ₹1790 Cashback
  • Sony Xperia XZs G8232 64 GB (Ice Blue)
    ₹ 34999 MRP ₹ 51990 -33%
    ₹3500 Cashback


साल 2009 से स्ट्रोक की समस्या से पीड़ित होने के बाद से अटल बिहारी वाजपेयी की बोलने की क्षमता भी प्रभावित हो चुकी है। भारत रत्न से सम्मानित पूर्व प्रधानमंत्री डिमेंशिया और डायबिटीज जैसी बीमारियों से भी जूझ रहे हैं और फिलहाल व्हीलचेयर पर हैं। कभी संसद में अपने दमदार भाषणों के लिए पहचाने जाने वाले अटल बिहारी वाजपेयी फिलहाल सार्वजनिक जीवन से दूर हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App