ताज़ा खबर
 

HAL के इंजीनियरों-तकनीशियनों की छुट्टी रद्द, किसी भी वक्त यात्रा के लिए तैयार रहने का आदेश

पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारत ने किसी भी विपरीत स्थिति से निपटने के लिए अपनी सेना को भी अलर्ट पर रखा है।

Author बेंगलुरु | September 30, 2016 10:41 AM
सर्जिकल स्ट्राइक की जानकारी देते डीजीएमओ ले. जनरल रणबीर सिंह और विदेश मंत्रालय के विकास स्वरूप। ( Photo-PTI)

पीओके में भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारतीय वायुसेना सेना के लड़ाकू विमानों की देखभाल करने वाली सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी हिंदुस्‍तान एयरोनॉटिक्‍स लिमिटेड को अलर्ट पर रखा गया है। कंपनी के इंजीनियर्स और टेकनीशियन का रेगूलर ड्यूटी टाइम खत्म करके, उनके लिए ऑवरटाइम जरूरी कर दिया गया है। इसके साथ ही उनकी छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं। इसके साथ ही उन्हें निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने बैग पैक करके रखें, उन्हें किसी भी वक्त भेजा जा सकता है। अब कंपनी के टेकनीशियन, इंजीनियर्स और मैनेजर्स को हर रोज रात 11 बजे तक काम करना होगा। ऐसे ही हालात साल 1999 के युद्ध के वक्त हुए थे, जब इस कंपनी के कर्मचारी कई सप्ताह तक अपने घर नहीं गए थे।

वीडियो में देखें- सीमा के पास के गांव खाली कराए गए

बता दें, गुरुवार को भारत के डीजीएमओ ले. रणबीर सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके जानकारी दी थी कि भारतीय सेना ने पीओके में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक किया गया है। डीजीएमओ ने बताया था कि सर्जिकल स्ट्राइक में कई आतंकियों को ढेर कर दिया गया है। सर्जिकल स्ट्राइक बुधवार रात को किए गए। हालांकि, पाकिस्तान ने डीजीएमओ के दावे का खंडन किया है। पाकिस्तानी सेना ने कहा कि भारत की सेना की ओर से कोई सर्जिकल स्ट्राइक नहीं हुए। सीमा पर दोनों पक्षों में हुई गोलीबारी में दो पाकिस्तानी जवान मारे गए हैं।

Read Also:  नवाज शरीफ का नाम लेकर इमरान खान ने साधा भारत पर निशाना, कहा- मोदी को कैसे जवाब दिया जाता है मैं बताउंगा

डीजीएमओ ले. जनरल रणबीर सिंह ने बताया था कि भारत ने एलओसी पार करके आतंकी ठिकानों पर हमले किए हैं और कई आतंकियों को मार गिराया है। डीजीएमओ ने बताया, ‘ये सभी आतंकी भारत में घुसपैठ करने के लिए एलओसी पर इकट्ठा हुए थे। वे कश्मीर में घुसकर भारत के कई अन्य शहरों में हमला करना चाहते थे। इन ऑपरेशन को रोक दिया गया है क्योंकि इनका उद्देश्य आतंकियों को मार गिराना था। मैंने पाकिस्तानी डीजीएमसी को फोन करके अपनी चिंता साझा की और कल रात किे सर्जिकल हमले की भी जानकारी दी।’

Read Also: पंजाब: सीमावर्ती गांवों में 1965 और 1971 के युद्ध जैसे हालात, गांवों में रह गए हैं केवल मर्द

गुरुवार शाम को पाकिस्तानी सेना ने दावा किया कि उन्होंने भारतीय सेना के आठ जवानों को मार दिया है और एक को जिंदा पकड़ा है। हालांकि, बाद में भारतीय सेना ने पाकिस्तानी सेना के इस दावे को खारिज किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App