ताज़ा खबर
 

सांसद बनने के बाद छोड़ दिया अभिनय: स्मृति ईरानी

लोकप्रिय अभिनेत्री के रूप में घर-घर में अपनी पहचान बनाने वाली केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का कहना है कि सांसद बनने के बाद बतौर नेता अपनी जिम्मेदारियों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए उन्हें अभिनय छोड़ दिया था। स्मृति ईरानी ने कहा, ‘‘जब मैं राजनीति में आयी और सांसद बनी तो मैंने पेशे के तौर […]

Author November 24, 2014 3:43 PM
ईरानी ने सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के लिए चार बार लगातार आईटीए अवॉर्ड जीत कर एक रिकॉर्ड बनाया है। (स्रोत: पीटीआई)

लोकप्रिय अभिनेत्री के रूप में घर-घर में अपनी पहचान बनाने वाली केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का कहना है कि सांसद बनने के बाद बतौर नेता अपनी जिम्मेदारियों पर ध्यान केंद्रित करने के लिए उन्हें अभिनय छोड़ दिया था।

स्मृति ईरानी ने कहा, ‘‘जब मैं राजनीति में आयी और सांसद बनी तो मैंने पेशे के तौर पर अभिनय को छोड़ दिया। यदि आप चाहते हैं कि आपके राजनीतिक योगदान को गंभीरता से लिया जाए तो आपको उसे उतना समय देने की जरूरत होती है।’’

अभिनय से राजनीति में आयीं 38 वर्षीय स्मृति ईरानी वर्ष 2000 के दौरान ‘‘क्योंकि सास भी कभी बहू थी’’ धारावाहिक के ‘‘तुलसी’’ किरदार के जरिए घर घर की चहेती बन गयी थीं। जल्द ही वह अभिषेक बच्चन अभिनीत फिल्म ‘‘ऑल इज वैल’’ में दिखाई देंगी।

मानव संसाधन विकास मंत्री ने पीटीआई भाषा से बातचीत में स्पष्ट किया कि उन्होंने मंत्री बनने से पूर्व इस फिल्म के लिए हां कही थी। उन्होंने इस बात पर अफसोस जताया कि वह फिल्म के प्रमोशन के लिए समय नहीं निकाल पा रही हैं।

गुजरात से राज्यसभा की सदस्य स्मृति कहती हैं, ‘‘यह कोई नयी फिल्म नहीं है और जब मेरे पास समय था तो और लोगों के पास समय नहीं था और अब दुर्भाग्य से अब प्रमोशन के लिए हम लोग एक साथ मिलकर समय नहीं निकाल पा रहे हैं।’’

उन्होंने मजाकिया अंदाज में कहा, ‘‘मैं अभिषेक की सराहना करती हूं कि वह मेरे पास समय की कमी की चुनौती को समझता है और इस समय तो यह हालत है कि मेरे पास बाजू की चोट का इलाज तक करवाने की फुरसत नहीं है।’’

ईरानी 1998 में मिस इंडिया सौंदर्य प्रतियोगिता की अंतिम सूची में चुनी गयी उम्मीदवारों में शामिल थीं और बाद में वह ‘‘थोड़ी सी जमीन, थोड़ा सा आसमान’’, ‘‘विरुद्ध’’ और ‘‘तीन बहुरानियां’’ जैसे कई धारावाहिकों में आयीं। वर्ष 2003 में वह भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुई थी।

उन्होंने सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री (लोकप्रिय) के लिए चार बार लगातार इंडियन टेलीविजन एकेडमी अवॉर्ड जीत कर एक रिकॉर्ड बनाया है। उन्होंने चार इंडियन टेली अवॉर्ड्स और आठ स्टार परिवार पुरस्कार जीते हैं।

ईरानी को वर्ष 2004 में महाराष्ट्र भाजपा की युवा शाखा का उपाध्यक्ष बनाया गया और 2004 के आम चुनाव में उन्होंने दिल्ली में चांदनी चौक लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल के खिलाफ चुनाव लड़ा लेकिन हार गयीं। हालिया लोकसभा चुनाव में उन्होंने अमेठी में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव लड़ा था लेकिन इस बार भी वह नाकाम रहीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App