ताज़ा खबर
 

छेड़छाड़ की शिकायत के बाद तिहाड़ की 26 नर्सों का तबादला

दिल्ली सरकार ने एक डाक्टर की शिकायत के बाद तिहाड़ जेल के अस्पताल में तैनात 26 महिला नर्सों का तबादला कर दिया। महिला डाक्टर ने शिकायत की थी कि एक कैदी ने उससे छेड़छाड़ की थी।

Author नई दिल्ली | November 2, 2015 8:26 AM
’तिहाड़ में तैनात महिला नर्सों ने सरकार के इस कदम की आलोचना की और कहा कि अगर वे दक्षिण एशिया के सबसे बड़े जेल परिसर में से एक में सुरक्षित नहीं हैं, तो वे कहां सुरक्षित रहेंगी।

दिल्ली सरकार ने एक डाक्टर की शिकायत के बाद तिहाड़ जेल के अस्पताल में तैनात 26 महिला नर्सों का तबादला कर दिया। महिला डाक्टर ने शिकायत की थी कि एक कैदी ने उससे छेड़छाड़ की थी। हालांकि यह फैसला नर्सों को रास नहीं आया और उन्होंने तबादला निरस्त करने की मांग करते हुए कहा कि अगर वे दक्षिण एशिया के सबसे बड़े जेल परिसर में से एक में सुरक्षित नहीं हैं, तो वे कहां सुरक्षित रहेंगी।

दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने तिहाड़ की स्वास्थ्य सेवा में तैनात 26 महिला नर्सों का तबादला दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल में कर दिया। अधीक्षक एचआर नर्सिंग की ओर से जारी एक आदेश में कहा गया कि इन नर्सों की जगह दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल के 26 पुरुष नर्स लेंगे। यह कदम ऐसे समय उठाया गया, जब एक महिला डाक्टर ने आरोप लगाया है कि जेल अस्पताल में एक दोषी ने उससे छेड़छाड़ की।

हालांकि तिहाड़ में तैनात महिला नर्सों ने सरकार के इस कदम की आलोचना की और कहा कि अगर वे दक्षिण एशिया के सबसे बड़े जेल परिसर में से एक में सुरक्षित नहीं हैं तो वे कहां सुरक्षित रहेंगी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को लिखे पत्र में नर्सों ने मांग की कि तबादला आदेश निरस्त होना चाहिए। पत्र में कहा गया कि ऐसे समय जब हर कोई महिला सशक्तीकरण की बात कर रहा है, इस तरह के कदम उनके भरोसा को हिला देंगे और वे उन पर होने वाले अत्याचारों के खिलाफ कभी खड़ी नहीं हो पाएंगी।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XA Dual 16 GB (White)
    ₹ 15940 MRP ₹ 18990 -16%
    ₹1594 Cashback
  • Sony Xperia L2 32 GB (Gold)
    ₹ 14845 MRP ₹ 20990 -29%
    ₹0 Cashback

एक वरिष्ठ नर्स ने कहा कि महिला नर्सों का तबादला कोई समाधान नहीं है। सुरक्षा मुहैया कराना सरकार की जिम्मेदारी है और इस तरह के कदमों से वह अपनी जिम्मेदारी से भाग रही है। तिहाड़ जेल में डाक्टरों और नर्सों सहित महिला कर्मचारियों की सुरक्षा पर हाल में उस समय सवाल खड़े हुए थे जब वहां काम करने वाली एक डाक्टर ने दिल्ली महिला आयोग में आवेदन देकर एक कैदी के खिलाफ यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App