ताज़ा खबर
 

पांच दिन में बढ़ गए 116% नए मरीज, तमिलनाडु को पछाड़ मध्य प्रदेश बना देश का तीसरा सर्वाधिक कोरोना प्रभावित राज्य

भारत में महाराष्ट्र के बाद दिल्ली और मध्य प्रदेश कोरोनावायरस के हॉटस्पॉट बने हैं, इन दोनों राज्यों में देश के कुल संक्रमण के 44 फीसदी मामले हैं।

Author Edited By कीर्तिवर्धन मिश्र नई दिल्ली | Updated: April 19, 2020 11:01 AM
coronavirusमध्य प्रदेश में इंदौर, भोपाल और खरगौन कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं।

भारत में कोरोनावायरस मामलों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। अब तक देश के 36 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में से 33 में कोरोना पीड़ित पाए गए हैं। केंद्र सरकार लगातार कह रही है कि देश में कम्युनिटी ट्रांसमिशन अभी नहीं फैला है, लेकिन इस बीच देश में संकर्मितों की संख्या 16 हजार के आंकड़े को पार कर गई है। वहीं, 500 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। देश के तीन राज्य कोरोनावायरस के हॉटस्पॉट बनकर उभरे हैं। इनमें महाराष्ट्र, दिल्ली और तमिलनाडु शामिल हैं। हालांकि, बीते कुछ दिनों में मध्य प्रदेश संक्रमण के नए हॉटस्पॉट के तौर पर उभरा है।

मध्य प्रदेश में संक्रमण के बढ़ते मामलों का हाल यह है कि 17 अप्रैल को राज्य में पीड़ितों की संख्या तमिलनाडु से ज्यादा हो गई। इसी के साथ मध्य प्रदेश सबसे ज्यादा मामलों वाला तीसरा राज्य बन गया। मध्य प्रदेश में 17 अप्रैल से पहले के 5 दिनों में संक्रमण के मामले 116% तक बढ़ गए। हालांकि, अब भी कोरोना के मामलों में महाराष्ट्र सबसे आगे है। यहां देशभर के 23.16 फीसदी मामले सामने आ चुके हैं। वहीं, दिल्ली और मध्य प्रदेश में देश के कुल 44.47 फीसदी केस हैं।

देश में कोरोना वायरस से जुड़ी पूरी जानकारी के लिए यहां क्लिक करें

गौरतलब है कि भारत में कोरोनावायरस का पहला मामला केरल के थ्रिसुर जिले में पाया गया था। यहां चीन के वुहान से लौटे एक छात्र की टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। राज्य में ही सबसे पहले 3400 लोगों को क्वारैंटाइन में भेजा गया था। इसके बाद 10 मार्च तक देश में कोरोनावायरस के 50 ही मामले थे। हालांकि, 20 मार्च तक यह मामले 196 हुए। 25 मार्च तक कुल केसों की संख्या बढ़कर 606 पहुंच गई। 19 अप्रैल तक के डेटा के मुताबिक, देश में संक्रमितों की संख्या 16 हजार पार कर गई है।

जानिए राज्यों में कैसे बढ़ रहे कोरोनावायरस के मामले

इन सबके बीच खास बात यह है कि आपस में सीमाएं साझा करने वाले तीन राज्य- महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और गुजरात में इस वक्त 4500 से ज्यादा एक्टिव केस हैं। इन तीनों राज्यों में तो संक्रमण के करीब 80 फीसदी मामले तीन जिलों में ही मौजूद हैं। महाराष्ट्र की बात करें, तो यहां मुंबई, पुणे और ठाणे में 89.27% केस हैं। राज्य में रिकवर हुए कुल मरीजों में से 83 फीसदी इन्हीं तीन जिलों से हैं। वहीं, गुजरात के तीन जिलों- अहमदाबाद, वडोदरा और सूरत में राज्य के 84.87 फीसदी केस हैं। राज्य के करीब 52.05 फीसदी ठीक हुए मरीज भी इन तीन जिलों से ही हैं। इसके अलावा मध्य प्रदेश में इंदौर, भोपाल और खरगौन में राज्य के करीब 81.51 फीसदी मरीज हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पीएम की अपील- कोरोना जाति, धर्म, रंग, जाति, पंथ, भाषा या सीमाओं को नहीं देखता, भाईचारा बनाए रखें
2 तीन राज्यों में बिहार के 10 लाख प्रवासी मजदूर हैं फंसे, जियोफेन्सिंग टेक्नॉलोजी से 44.5% कैश ट्रांसफर इन्हीं राज्यों में गया
3 निजामुद्दीन मरकज में शामिल होने के बाद रांची पहुंचा वेस्ट इंडीज का संक्रमित
IPL 2020 LIVE
X