ताज़ा खबर
 

यूपी में ऐतिहासिक जीत के बाद अब गुजरात में जून में ही चुनाव चाहती है नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी, AAP की उम्‍मीदों पर फिर सकता है पानी

राज्‍य की 182 विधानसभा सीटों में से बीजेपी ने 150 पर कब्‍जा करने का लक्ष्‍य निर्धारित किया है।

PM Narendra modi, Narendra Modi, Corruption, BJP Parliamentary party, Work, UP election 2017, BJP win, General election 2019बीजेपी संसदीय दल की बैठक में पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (Source-PTI)

पांच राज्‍यों के विधानसभा चुनाव के बाद 4 राज्‍यों में सरकार बनाने वाली भारतीय जनता पार्टी के हौसले बुलंद हैं। पार्टी इन चुनावों से बने माहौल का फायदा गुजरात में भी उठाना चाहती है, जहां इस साल के आखिर में विधानसभा चुनाव प्रस्‍तावित हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्‍यक्ष ने हाल के दिनों में हुई बैठकों में पार्टी के शीर्ष नेताओं के मन में गुजरात चुनाव समय से पहले कराने का विचार डाल दिया है। नई दिल्‍ली से आ रही रिपोर्ट्स के मुताबिक, मोदी और शाह इस साल जून में ही, गुजरात के विधानसभा चुनाव करवा सकते हैं। भाजपा शासित राज्‍यों में गुजरात का स्‍थान इसलिए भी महत्‍वपूर्ण है क्‍योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके गुजरात मॉडल के लिए ही देशभर में लोकप्रियता मिली थी। मोदी लहर का पूरा फायदा उठाने के लिए, राज्‍य में सत्‍ताधारी भाजपा यहां जल्‍द चुनाव करा सकती है। भाजपा ने गुजरात चुनाव से पहले एक नया नारा दिया है- ”यूपी में 325, गुजरात में 150”, राज्‍य की 182 विधानसभा सीटों में से बीजेपी ने 150 पर कब्‍जा करने का लक्ष्‍य निर्धारित किया है।

गुजरात में अगर समयपूर्व चुनाव होते हैं तो अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी की उम्‍मीदों पर पानी फिर सकता है। पंजाब में पूरी ताकत से लड़ी AAP दूसरे नंबर की पार्टी रही, गोवा में उसका खाता भी नहीं खुल सका। अगर 2017 अंत की बजाय जून में चुनाव होते हैं तो पार्टी को प्रचार के लिए बेहद कम समय मिलेगा, क्‍योंकि अगले महीने दिल्‍ली नगर निगम के चुनाव होने हैं। दिल्‍ली में AAP की ही सरकार है, ऐसे में यहां प्रतिष्‍ठा बचाना केजरीवाल की पार्टी के लिए ज्‍यादा अहम है।

जल्‍दी चुनाव करवाने की मोदी-शाह की मंशा के पीछे जुलाई में होने वाले राष्‍ट्रपति चुनाव को भी एक वजह माना जा रहा है। यूपी में प्रचंड जीत के बाद राज्‍यसभा में भाजपा मजबूत हुई है, इसलिए अलावा अगर गुजरात में भी लक्ष्‍य के अनुसार 140-150 सीटें आती हैं तो अपनी पसंद का राष्‍ट्रपति चुनने में भाजपा को कोई खास दिक्‍कत नहीं आनी चाहिए। देश के ज्‍यादातर बड़े राज्‍यों में भाजपा की सरकार है। राष्‍ट्रपति चुनाव में राज्‍यसभा के अलावा राज्‍य के सदनों की महती भूमिका होती है।

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी का कहना है कि देशभर में मोदी लहर है और अगर राज्य में समयपूर्व चुनाव होते हैं तो हम उसके लिए भी तैयार हैं। सीएम ने कहा कि उनकी पार्टी निश्चित तौर पर 150 से ज्यादा सीटें जीतेगी। वर्तमान में भाजपा के पास 123 सीटें हैं। गुजरात में भाजपा पिछले 19 सालों से लगातार सत्ता पर काबिज है।

Next Stories
1 20 मार्च, शाम 5 बजे न्यूज अपडेट: गंगा बनी पहली जीवित इकाई, चीनी मीडिया ने माना मोदी का लोहा, ड्रॉ हुआ तीसरा टेस्ट
2 PAK में ‘लापता’ हुए मौलवी भारत लौटे, बताया- रॉ एजेंट बता कर पाकिस्‍तान ने पकड़ ल‍िया था
3 पाकिस्तान से लौटे मौलवियों को सुब्रमण्यम स्वामी ने बताया झूठा, बोले- मेरे पास जानकारी है ये लोग देश के खिलाफ काम कर रहे थे
आज का राशिफल
X