ताज़ा खबर
 

पुलवामा हमले के बाद करीब आठ लाख जवानों के लिए गृह मंत्रालय ने किया बड़ा ऐलान

Jammu and Kashmir Pulwama's Awantipora Terror Attack Updates: पैरा-मिलिट्री में कॉस्टेबल, हेड-कॉस्टेबल और एएसआई रैंक के जवानों को श्रीनगर से जाने व जाने के लिए हवाई सुविधा उपलब्ध करवायी जाएगी।

kashmir, kashmir terror attack, kashmir terror attack news, jammu and kashmir terror attack, awantipora kashmir, awantipora kashmir terror attack, awantipora kashmir terror attack news, awantipora kashmir terrorist attack, pulwama attack, pulwama attack today on crpf, pulwama attack news, kashmir pulwama attack, Home ministry, air travel, Delhi-Srinagar, Srinagar-Delhi, Jammu-Srinagar, Srinagar-Jammu, Central Armed Paramilitary Forcesजम्मू-कश्मीर में ड्यूटी पर तैनात सीआरपीएफ जवान। (Express Photo by Shuaib Masoodi)

Kashmir Pulwama Awantipora Terror Attack Updates: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले के बाद गृह मंत्रालय ने बड़ा कदम उठाया है। केंद्रीय सरकार ने पैरा-मिलिट्री के जवानों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए उन्हें हवाई सफर उपलब्ध करवाने का फैसला लिया है। इससे करीब आठ लाख जवानों को लाभ मिलेगा। गृह मंत्रालय के आदेश के मुताबिक जवानों को दिल्ली से श्रीनगर, श्रीनगर से दिल्ली, जम्मू से श्रीनगर और श्रीनगर से जम्मू हवाई यातायात के माध्यम से ले जाया और लाया जाएगा। कश्मीर घाटी में तैनात जवान अब कॉमर्शियल फ्लाइट का लाभ प्राप्त कर सकेंगे।

गृह मंत्रालय के इस आदेश से तत्काल करीब 7 लाख 80 हजार जवानों फायदा होगा। इन जवानों में कॉस्टेबल, हेड कॉस्टेबल और एएसआई रैक के जवान भी शामिल हैं। पहले इन जवानों को ड्यूूटी से घर जाने और घर से ड्यूटी ज्वाइन करने के दौरान हवाई यातायात की सुविधा नहीं मिलती थी। मंत्रालय ने यह भी साफ किया है कि जवान जब जम्मू-कश्मीर में तैनाती के बाद ड्यूटी से घर वापस जाएंगे या घर से वापस ड्यूटी ज्वाईन करने आएंगे, उस समय भी उन्हें यह सुविधा मिलेगी।

दरअसल, पुलवामा हमले के बाद यह खबर आयी थी कि गृह मंत्रालय ने जवानों को हेलकॉप्टर से ले जाने के प्रस्ताव को खारिज कर दिया था। इस खबर का खंडन करते हुए मंत्रालय ने कहा कि यह बात पूरी तरह गलत है। सैनिकों की यात्रा का समय कम करने के लिए सभी सेक्टरों में एयर कुरियर की सेवाओं को बढ़ा दिया गया है। मंत्रालय ने यह भी कहा था कि साजो सामान पहुंचाने तथा अभ्यासगत कारणों की वजह से पैरा-मिलिट्री के काफिलों का सड़क मार्ग से गुजरना जरूरी था और ऐसा आगे भी होता रहेगा।

जम्मू-कश्मीर सेक्टर में पैरा-मिलिट्री के जवानों को लाने व ले जाने के लिए एयर कुरियर सेवाएं पिछले कुछ समय पहले शुरू हुई थी। पहले यह सेवा जम्मू-श्रीनगर-जम्मू रूट पर शुरू हुई और फिर इसे बढ़कार दिल्ली-जम्मू-श्रीनगर-दिल्ली कर दिया गया।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मुश्‍किल में अनिल अंबानी: 2900 करोड़ की निजी दौलत गंवाई, एक महीना में 450 करोड़ नहीं जुटाए तो जाएंगे जेल!
2 कश्मीरी व्‍यापारी को पीट कर लहूलुहान करने का वीडियो वायरल, फैला तनाव
3 Kerala Karunya Plus Lottery KN-253 Results: केएन 253 लॉटरी के परिणाम घोषित, यहां चेक करें विजेताओं की पूरी सूची!