ताज़ा खबर
 

यूपी में एक और घोटाला उजागर- होमगार्ड्स जवानों ने ड्यूटी की 10 दिन पर वेतन निकले पूरे 20 दिन!

गौतम बुद्धनगर में करीब 375 होमगार्ड्स की तैनाती है, इसमें 10 महिला भी शामिल हैं। सबसे अधिक होमगार्ड्स ट्रैफिक पुलिस के साथ जुड़े हैं जबकि नोएडा और ग्रेएडा नोएडा के पुलिस स्टेशनों में अलग-अलग 10 से 15 होमगार्ड तैनात हैं।

Author नई दिल्ली | Published on: November 14, 2019 11:10 AM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

ईपीएफ घोटाले के बाद उत्तर प्रदेश के जनपद गौतम बुद्ध नगर में होमगार्डों की कथित तौर पर फर्जी हाजिरी लगाकर सरकार को लाखों रुपए की चपत लगाने का मामला सामने आया है। शासन स्तर की एक समिति ने मामले में जांच शुरू कर दी है। सूत्रों ने बताया कि होमगार्ड्स मई और जून में सिर्फ आधे समय तक ड्यूटी पर तैनात रहे, जबकि इनकी पूरी हाजिरी लगा दी गई। इसके अलावा इन होमगार्ड्स के खातों से करीब 7.5 लाख रुपए भी निकाल लिए गए। जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी वैभव कृष्ण ने बताया, ‘मामला तब सामने आया जब जुलाई में होमगार्ड्स यूनिट के एक प्लाटून कमांडर ने इन सनसनीखेज आरोपों के साथ मुझसे संपर्क किया।’

कृष्ण एक न्यूज एजेंसी से बातचीत में कहा, ‘शुरुआती जांच हुई तो आरोप सही पाए गए। इस तरह गड़बड़ी नोएडा के सात पुलिस स्टेशनों में पाई गई, जिसके बाद जिले के सभी पुलिस स्टेशनों में जांच का आदेश दिया गया था।’ घोटाले के तरीके पर बात करते हुए पुलिस अधिकारी ने आगे बताया, ‘मान लीजिए कोई होमगार्ड दस दिनों के लिए ड्यूटी पर तैनात रहा, मगर हाजिरी रजिस्टर में उसकी ड्यूटी बीस दिन दिखाई गई। इससे गार्ड की सैलरी बीस दिन की निकाली गई, जबकि उसे दिन की सैलरी मिलनी थी। हालांकि गार्ड को सिर्फ 10 दिन की सैलरी ही मिल पाती थी।’

बता दें कि प्रदेश में सहायक बल के रूप में काम कर रहे होमगार्ड नियमित कर्मचारी नहीं हैं और उनकी भर्ती आकस्मिक आधार पर की गई। इसलिए उनकी कोई तयशुदा सैलरी नहीं होती, उन्हें उनकी तैनाती के दिनों के आधार पर सैलरी मिलती है।

एसएसपी वैभव कृष्ण ने आगे कहा कि जब मामला प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह के समक्ष पहुंचा तब नोएडा पुलिस मामले में एफआईआर दर्ज करने की प्रक्रिया में थी। उन्होंने कहा कि मामले में जांच के आदेश दे दिए गए हैं और एफआईआर भी दर्ज कर ली गई है। हालांकि स्थानीय पुलिस की इसमें कोई भागीदारी सामने नहीं आई है।

बता दें कि गौतम बुद्धनगर में करीब 375 होमगार्ड्स की तैनाती है, इसमें 10 महिला भी शामिल हैं। सबसे अधिक होमगार्ड्स ट्रैफिक पुलिस के साथ जुड़े हैं जबकि नोएडा और ग्रेएडा नोएडा के पुलिस स्टेशनों में अलग-अलग 10 से 15 होमगार्ड तैनात हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 Maharashtra Gov Formation: महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगते ही GAD ने दिया फरमान, दस्तावेज-स्टेशनरी और फर्नीचर लौटाएं सभी मंत्रालय
2 वोडाफोन CEO ने पीएम नरेंद्र मोदी को खत लिख मांगी माफी, निक रीड के बयान से नाराज थी सरकार
3 कश्मीर पर पहली बार संसदीय समिति करेगी मोदी सरकार से पूछताछ, कांग्रेसी सांसद आनंद शर्मा के सामने पेश होंगे गृह सचिव
जस्‍ट नाउ
X