ताज़ा खबर
 

बाज नहीं आ रहे BJP नेता, चुनाव आयोग ने विज्ञापन पर बैन लगाया तो सोशल मीडिया पर कर रहे आरक्षण मुद्दे का प्रचार

चुनाव आयोग के बैन पर तो बीजेपी ने कुछ नहीं कहा, लेकिन वह इस मुद्दे को छोड़ने का नाम नहीं ले रही है। पार्टी नेता गिरिराज सिंह पीएम मोदी के संदेश के नाम से उसी प्रकार की सामग्री प्रचारित कर रहे हैं, जिस पर आयोग ने प्रतिबंध लगाया था।

चुनाव आयोग ने बीजेपी के दो विज्ञापनों पर भले ही रोक लगा दी हो, लेकिन पार्टी आरक्षण मुद्दे से जुड़ी सामग्री का जमकर प्रचार करने में जुटी है। पार्टी नेता गिरिराज सिंह ने शनिवार को अपने ट्वीट करके आरक्षण से जुड़ी सामग्री का प्रचार किया। चुनाव आयोग ने बीजेपी के जिन विज्ञापनों पर रोक लगाई थी, उनमें शीर्षक था,’दलितों-पिछड़ों की थाली खींच, अल्‍पसंख्‍यकों को परोसने का षड्यंत्र क्‍या सुशासन है।’ इसे राज्य के अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी आर लक्ष्मणन ने यह कहकर बैन कर दिया था कि ये धर्म और जाति के आधार पर लोगों को बांटते हैं। चुनाव आयोग के बैन पर तो बीजेपी ने कुछ नहीं कहा, लेकिन वह इस मुद्दे को छोड़ने का नाम नहीं ले रही है। शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी चुनावी सभा में नीतीश कुमार पर वार करते हुए कहा था, ”मेरे पास ये दस्‍तावेज हैं, जो 2005 में नीतीश कुमार ने दिए थे। इनमें नीतीश ने कहा था कि दलितों और पिछड़ों से आरक्षण छीनकर विशेष संप्रदाय के लोगों को दे दिया जाए।”

गोपालगंज में शुक्रवार को दिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस बयान को बीजेपी नेता गिरिराज सिंह ने शनिवार को ट्वीट किया। उन्‍होंने कई पोस्‍टर ट्वीट किए, जिनमें वो सभी बातें लिखी है, जिन्‍हें चुनाव आयोग ने बैन कर रखा है। पोस्टर के हेडिंग में लिखा है, ”30 अक्टूबर की रैली से हमारे पीएम का संदेश”।

पढ़ें, विवादित मुद्दे पर गिरिराज के ट्वीट

bjp 1

लगातार ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट्स, एनालिसिस, ब्‍लॉग पढ़ने के लिए आप हमारा फेसबुक पेज लाइक करें, गूगल प्लस पर हमसे जुड़ें  और ट्विटर पर भी हमें फॉलो करें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
ये पढ़ा क्या?
X