ताज़ा खबर
 

कोरोना के बाद अब देश में महंगाई की मार, रोजमर्रा की चीजों के दाम में उछाल

अर्थशास्त्री जयंतीलाल भंडारी ने कहा है कि देश में पेट्रोल-डीजल की महंगाई का बुरा असर केवल आम आदमी पर नहीं, बल्कि समूची अर्थव्यवस्था पर पड़ रहा है। हमारी अर्थव्यवस्था पहले ही कोविड-19 संकट के तगड़े झटके झेल चुकी है।

खुदरा और थोक महंगाई में बड़ी बढ़त दर्ज की गई है (Photo-PTI)

देश में कोरोना की दूसरी लहर का असर अब कमजोर हो गया है। लेकिन लोगों को महंगाई की मार का सामना करना पड़ रहा है। पेट्रोल और डीजल की कीमतों में हर दिन हो रही बढ़ोतरी के बीच अब रोजमर्रा की चीजों के दाम में भी काफी उछाल देखने को मिल रहा है।

हाल के दिनों साबुन, तेल, वाशिंग पाउडर, शैम्पू की कीमतों में काफी इजाफा देखने को मिला है। मीडिया खबरों के अनुसार इन चीजों के दामों में 42 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी दर्ज की गयी है। चायपत्ती, बेबी फूड, कैचप,जैम, नूडल्स के दामों में भी इजाफा देखने को मिल रहा है। गुरुवार को रसोई गैस की कीमतों में भी बढ़ोतरी दर्ज की गयी, वहीं अमूल दूध की कीमतों में भी बढ़ोतरी हुई है।

गुजरात सहकारी दूध विपणन संघ (जीसीएमएमएफ) ने बुधवार को कहा था कि अमूल दूध की कीमतों में एक जुलाई से सभी ब्रांडों के लिए दो रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की जाएगी। अमूल ब्रांड नाम के तहत दूध और डेयरी उत्पादों का विपणन करने वाले जीसीएमएमएफ के प्रबंध निदेशक आर एस सोढ़ी ने कहा कि लगभग एक साल और सात महीने के बाद कीमतों में बढ़ोतरी की जा रही है, जो उत्पादन लागत में वृद्धि के कारण जरूरी हो गई थी।

ईंधन की बढ़ती कीमतों से परिवहन लागत ऊंची होने के चलते दिल्ली के थोक और खुदरा बाजारों में फल-सब्जी की कीमतों में इस सप्ताह और वृद्धि हुई। व्यापारियों ने बुधवार को यह भी कहा कि हालांकि, फल-सब्जी की कीमतें इस समय ज्यादा ऊंची नहीं हैं। लेकिन उन्होंने कहा कि यदि डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी जारी रही तो आने वाले हफ्तों में ये खाद्य वस्तुएं महंगी हो सकती हैं।

अर्थशास्त्री जयंतीलाल भंडारी ने कहा है कि देश में पेट्रोल-डीजल की महंगाई का बुरा असर केवल आम आदमी पर नहीं, बल्कि समूची अर्थव्यवस्था पर पड़ रहा है। हमारी अर्थव्यवस्था पहले ही कोविड-19 संकट के तगड़े झटके झेल चुकी है। उन्होंने कहा, “वक्त की मांग है कि केंद्र और राज्य सरकारें खासकर पेट्रोल-डीजल पर अपने कर-उपकर घटाकर लोगों को महंगाई से राहत दें।”

Next Stories
1 महाभारत के जरिए शिवसेना का बीजेपी पर निशाना, सामना में लिखा- अभिमन्यु बनने की गलती न करे
2 किसान आंदोलन पर बहस के बीच होने लगा मंदिर-मस्जिद, पैनलिस्ट बोले- मंदिर था तो क्यों तोड़ा
3 Tecno Spark Go 2021: 5000mAh बैटरी के साथ टेक्नो ने लॉन्च किया नया स्मार्टफोन, जानें कीमत
ये पढ़ा क्या?
X