ताज़ा खबर
 

हरियाणा में चुनाव से पहले बागी हुए पूर्व सीएम, कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा- बख्शेंगे नहीं

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर ने सोमवार को पूर्व सीएम भूपेंदर सिंह हुड्डा पर बड़ा हमला किया और कहा कि हुड्डा का बर्ताव 'अनुशासनहीनता' के दायरे में आता है और कोई भी नेता पार्टी से बड़ा नहीं है।

हरियाणा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर।

हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंदर सिंह हुड्डा के बागी तेवरों ने कांग्रेस की टेंशन बढ़ा दी है। इस बात की अटकलबाजी तेज हो गई है कि राज्य में विधानसभा चुनाव से पहले पूर्व सीएम कांग्रेस का दामन छोड़ सकते हैं। उधर, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर ने सोमवार को उन पर बड़ा हमला किया और कहा कि हुड्डा का बर्ताव ‘अनुशासनहीनता’ के दायरे में आता है और कोई भी नेता पार्टी से बड़ा नहीं है।

बता दें कि तंवर और हुड्डा के बीच लंबे वक्त से तनातनी चल रही है। बताया जाता है कि हुड्डा आलाकमान के तंवर को हटाकर उनकी पंसद के शख्स को प्रदेश कांग्रेस की कमान न दिए जाने को लेकर नाखुश हैं। इसके अलावा, हुड्डा विधानसभा चुनाव के लिए प्रत्याशियों के चुनाव में भी आजादी चाहते हैं। राज्य में कुछ ही महीनों बाद विधानसभा चुनाव होने वाले हैं।

तंवर ने सोमवार को द इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में हुड्डा की रोहतक में रविवार को हुई रैली का जिक्र करते हुए कहा, ‘जिस तरह से वहां कुछ ऐलान किए गए और जैसी बातें वहां कहीं गईं, मैं सिर्फ इतना कह सकता हूं कि चाहे जो कोई हो, वह कितना ही बड़ा क्यों न हो, कोई पार्टी से बड़ा नहीं है।’

बता दें कि रैली में हुड्डा ने पार्टी के समर्थन या उसके बिना, किसी भी हालत में खुद को ही हरियाणा का सीएम कैंडिडेट करार दिया था। उन्होंने यह भी घोषणा की कि चार डिप्टी सीएम होंगे, जिनमें एक पिछड़ा वर्ग जबकि दलित और ब्राह्मण समुदाय से भी उप मुख्यमंत्री बनेंगे। हुड्डा ने आर्टिकल 370 के प्रावधानों को खत्म करने के लिए सरकार की तारीफ न करने के लिए कांग्रेस नेतृत्व की भी आलोचना की।

तंवर ने कहा, ‘पब्लिक प्लैटफॉर्म पर ऐसी बातें कहते हुए लोगों को कम से कम 100 बार सोचना चाहिए। कुछ चीजें ऐसी हैं जो अनुशासनहीनता के दायरे में आती है। मैं ये बातें नेतृत्व के ध्यान में लाऊंगा।’ सिरसा में सोमवार को कांग्रेस के एक चुनावी कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे तंवर ने कहा, ‘अनुशासनहीनता लंबे वक्त से चली आ रही है। अब इसे खत्म करने का वक्त आ गया है। मुझे नहीं लगता कि पार्टी नेतृत्व ऐसी चुनौतियों और दबाव बनाने के तरीकों को बर्दाश्त करेगी।’

तंवर ने कहा कि हुड्डा को इस टिप्पणी पर जवाब देना होगा, जिसने उन्होंने कहा था कि कांग्रेस रास्ता भटक गई है। तंवर ने कहा, ‘उन्होंने कहा कि कांग्रेस अब पुरानी कांग्रेस जैसी नहीं रही। इसका क्या मतलब है? आलकमान को इसपर जवाब दिए जाने की जरूरत है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 अब प्रज्ञा ठाकुर के निशाने पर जवाहर लाल नेहरू, BJP सांसद ने ठहराया ‘अपराधी’
2 मोदी को मॉब लिंचिंग पर लिखने वाले सेलिब्रिटीज ने अब ममता बनर्जी को लिखी चिट्ठी, बंगाल में हिंसा को लेकर साधा निशाना
3 AIIMS में अरुण जेटली की हालत नाजुक, जानिए कौन से वॉर्ड में रखा गया है पूर्व FM को