ताज़ा खबर
 

पाकिस्तानी ने सुषमा स्वराज से लगाई गुहार कहा- अल्लाह के बाद आप हमारी आखिरी उम्मीद

हाल ही में इस्लामाबाद ने भारत पर मानवीय मुद्दों पर "राजनीतिकरण" का आरोप लगाया था।

भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज। (Source: PTI)

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से एक पाकिस्तानी नागरिक ने गुहार लगाई थी, उसे भारत का वीजा चाहिए था। शहबाज इकबाल ने ट्वीट किया था कि अल्लाह के बाद आप हमारी आखिरी उम्मीद हैं, कृप्या इस्लामाबाद एंबेसी (पाकिस्तान में भारत का दूतावास) से हमें मेडिकल वीजा देने के लिए कहें। शहजाब इकबाल को अपने भाई के लीवर के इलाज के लिए भारत का वीजा चाहिए। इस ट्वीट के जवाब में सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया कि भारत आपकी उम्मीद को पूरी करेगा, हम आपको तुरंत वीजा जारी करेंगे। विदेश मंत्री ने 4 पाकिस्तानी नागरिकों को वीजा देने का ऐलान किया है, जिन्हें भारत में इलाज की जरूरत है। आपको बता दें कि तीन दिन पहले ही इस्लामाबाद ने भारत पर मानवीय मुद्दों पर “राजनीतिकरण” का आरोप लगाया था।

विदेश मंत्री ने एक और पाकिस्तानी नागरिक साजिदा बख्श को भी मेडिकल वीजा देने की बात कही। साजिदा को भी भारत में अपना लीवर ट्रांसप्लांट कराना है। इनके अलावा किश्वर सुल्ताना को भी नोएडा के एक हॉस्पिटल में लीवर ट्रांसप्लांट कराना है। सुल्ताना को भी वीजा देने का आश्वासन दिया है। स्वतंत्रता दिवस पर विदेश मंत्रालय ने घोषणा की थी कि भारत सभी पाकिस्तानी रोगियों को मेडिकल वीजा प्रदान करेगा।

मंत्रालय ने मई में घोषणा की थी कि तत्कालीन पाकिस्तान के प्रधानमंत्री के विदेश सलाहकार सरताज अजीज की सिफारिश का केवल एक पत्र पाकिस्तानी नागरिक को भारत के लिए मेडिकल वीजा दिलाने में सक्षम होगा। इस कार्रवाई को इस्लामाबाद द्वारा बहुत अफसोसजनक कहा गया था।  18 जुलाई 2017 को भी पीओके के एक नागरिक को लीवर ट्यूमर के इलाज के लिए वीजा दिया गया था। उस समय सुषमा स्वराज ने कहा था कि उन्हें वीजा देने के लिए पाकिस्तान सरकार से सिफारिश की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि यह क्षेत्र भारत का अभिन्न हिस्सा है। हालांकि 15 अगस्त 2017 के बाद से किसी भी पाकिस्तानी नागरिक को भारत ने मेडिकल वीजा के लिए मना किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App