‘जय श्रीराम’ के नाम पर मुस्लिमों का कत्ल हुआ या नहीं?- पीस पार्टी प्रवक्ता ने पूछा, रुबिका बोलीं- अंकित और पालघर में साधुओं की लिंचिंग हुई या नहीं

चर्चा में आगे निदा ने दावा किया कि उन्हें मुस्लिम भाई ने ही वीडियो बनाकर धमकाया। मेरे फोन पर वह धमकी भर मैसेज भी है। इस दौरान हर हिंदुस्तानी ने मेरा हाल-चाल जाना। ऐंकर ने इसी पर चौहान से सवाल पूछा- अब बताएं, मुंह में दही जम गया क्या?

mob lynching, muslim, national news
पश्चिम बंगाल के कोलकाता शहर में तबरेज अंसारी की लिंचिंग के खिलाफ तख्ती लेकर विरोध प्रदर्शन करते स्टूडेंट इस्लामिक ऑर्गनाइजेशन ऑफ इंडिया के सदस्य। (एक्सप्रेस आर्काइव फोटोः पार्था पॉल)

अफगानिस्तान संकट के मुद्दे पर हुए एक डिबेट शो में शुक्रवार (10 सितंबर, 2021) को पीस पार्टी के प्रवक्ता शादाब चौहान और न्यूज ऐंकर रुबिका लियाकत के बीच गर्मा-गर्म बहस हो गई। अखलाख आदि का जिक्र कर चौहान पूछने लगे कि देश में जय श्रीराम के नारे के नाम पर मुस्लिमों को कत्ल हुआ या नहीं? इस पर लियाकत ने जवाब देते हुए प्रश्न दाग दिया कि अंकित (दिल्ली दंगा 2020) और पालघर (महाराष्ट्र) के पालघर में साधुओं की लिंचिंग (भीड़ द्वारा पीट-पीटकर हत्या) की गई थी या नहीं?

यह मामला हिंदी चैनल एबीपी न्यूज से जुड़ा है। चर्चा के दौरान स्टूडियो में दो अफगान महिलाएं (शाजिया और निदा रहीम) भी थीं। ऐंकर ने दोनों से पूछा कि वह क्या मुसलमान हैं, भारत में कितने लोगों ने आपसे कहा कि यह पर्दा हटाएं, आप हिंदू मुल्क में हैं? जवाब आया- किसी ने नहीं। उल्टा हमें सम्मान दिया है। हम जहां काम करते हैं, वह हिंदू-मुस्लिम एक प्लेट में खाना खाते हैं।

चौहान इसी बीच चिल्लाने लगे। कहने लगे- आपको नजर नहीं आया कि चूड़ी वाले को मारा गया। क्या जय श्रीराम के नाम पर मॉब लिंचिंग नहीं हुई? आगरा में आपको घर वापसी प्रोग्राम नहीं नजर आया? मुसलमानों को सीएए में नागरिकता से क्यों निकाल दिया गया, मुस्लिम शब्द को क्यों बाहर रखा गया उससे? क्या अशरफुल और अखलाख जैसों का धर्म के नाम पर कत्ल नहीं हुआ क्या?

रुबिका ने दो टूक जवाब दिया- अंकित की मॉब लिंचिंग हुई या नहीं? पालघर के साधुओं की लिंचिंग हुआ या फिर नहीं? वह एक घटना (मुसलमानों की लिंचिंग) अगर हुई है, तो हिंदुओं के खिलाफ भी वारदातें हुई हैं। ऐसा नहीं है कि घटनाएं सिर्फ मुसलमानों के खिलाफ हो रही हैं। अपराध हिंदूओं के साथ मुस्लिम, सिख और इसाई के खिलाफ भी हो रहा है। झूठ बोलते हैं…मुस्लिमों को जबरदस्ती डराते हैं और कहते हैं कि पीस पार्टी हैं।

चर्चा में आगे निदा ने दावा किया कि उन्हें मुस्लिम भाई ने ही वीडियो बनाकर धमकाया। मेरे फोन पर वह धमकी भर मैसेज भी है। इस दौरान हर हिंदुस्तानी ने मेरा हाल-चाल जाना। ऐंकर ने इसी पर चौहान से सवाल पूछा- अब बताएं, मुंह में दही जम गया क्या? देखें, कार्यक्रम में आगे क्या हुआ?:

पढें राष्ट्रीय समाचार (National News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट