दलितों की भाजपा में कोई औकात नहीं, राष्ट्रपति दलित हैं पर PM नमस्ते तक नहीं लेते- डिबेट में बोले उदित राज

उदित राज ने आरोप लगाया कि बीजेपी ने उनके दरवाजे पर आकर उनको टिकट दिया था और उनके वोट बैंक को लूट लिया।

bjp, congressकांग्रेस नेता उदित राज।(Indian Express)।

एबीपी न्यूज़ पर डिबेट के दौरान एंकर रुबिका लियाकत ने कांग्रेस नेता उदित राज से कहा कि उदित जी बोलिए मिल गया मौका मार दीजिए चौका। इस पर जवाब देते हुए कांग्रेस नेता उदित राज ने कहा कि बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि बीजेपी में मेरी रहने की औकात नहीं थी। उदित राज ने कहा कि दलितों की कोई औकात भारतीय जनता पार्टी में नहीं है। इस पर डिबेट में बीजेपी प्रवक्ता टोकने लगे कि देश के राष्ट्रपति दलित हैं। पूर्व सांसद उदित राज ने कहा कि राष्ट्रपति कोविंद योगी जी के सामने खड़े रहते हैं और मोदी जी कोविंद का नमस्ते भी नहीं लेते हैं।

उदित राज कहने लगे कि आपने बहुत अच्छा किया जो बता दिया कि बीजेपी में दलितों की कोई औकात नहीं है। इस पर पलटवार करते हुए बीजेपी प्रवक्ता प्रेम शुक्ला ने कहा कि कांग्रेस में दलितों की कोई औकात नहीं। प्रेम शुक्ला ने कहा कि बीजेपी ने उदित राज को दिल्ली से सांसद बनाया था कांग्रेस ने क्या बनाया? प्रेम शुक्ला उदित राज से पूछने लगे कि कांग्रेस में आप की क्या औकात है?

उदित राज कहने लगे, ‘मैं बीजेपी प्रवक्ता का बहुत धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने आज सच बता दिया कि बीजेपी और आरएसएस की क्या सोच है?’ उदित राज ने आरोप लगाया कि बीजेपी ने उनके दरवाजे पर आकर उनको टिकट दिया था और उनके वोट बैंक को लूट लिया।


डिबेट में एंकर रुबिका लियाकत उदित राज से कहने लगीं कि आप से जब जवाब देते नहीं बन रहा है इसलिए अब आप दलित-दलित कर रहे हैं। एंकर कहने लगी कि अब आप विक्टिम कार्ड खेल रहे हैं।

डिबेट में एंकर कहने लगीं कि अगर कोई मुझे कहे कि मेरी औकात नहीं तो इसका मतलब यह थोड़ी है कि कि महिलाओं की कोई औकात नहीं है?

इसका जवाब देते हुए उदित राज ने कहा कि अब आप प्रेम शुक्ला की बात को डिफेंड कर रही हैं।

Next Stories
1 ‘IPS…जबरिया रिटायर्ड’, केंद्र की कार्रवाई के बाद अमिताभ ठाकुर की नई नेम प्लेट
2 शराब पीने की उम्र 21 करने पर बोले आप समर्थक- देश आगे बढ़ चुका; एंकर का काउंटर सवाल- मिड डे मील में दिलवा देंगे शराब?
3 नए बिल के बाद पार्षद जितनी रह जाएगी केजरीवाल की हैसियत? सवाल पर बोले सुधांशु त्रिवेदी- राज्य नहीं है दिल्ली
यह पढ़ा क्या?
X