ताज़ा खबर
 

मोदी को ‘डिवाइडर इन चीफ’ बताने वाले आतिश की तारीफ कर चुके हैं राम माधव, बीजेपी ने जोड़ा है पाकिस्तान कनेक्शन

टाइम मैग्जीन में नरेंद्र मोदी के लिए 'इंडियाज डिवाइडर इन चीफ' लिखने वाले आतिश तासीर के खिलाफ बीजेपी के कार्यकर्ता लामबंद हैं। लेकिन, 2018 में बीजेपी के वरिष्ठ नेता राम माधव ने आतिश की लेखनी की जमकर प्रशंसा की थी। अब राम माधव का पुराना फेसबुक पोस्ट वायरल हो रहा है।

Time मैग्जीन में ‘India’s Divider in Chief’ नामक लेख लिखने वाले आतिश तासीर और बीजेपी के वरिष्ठ नेता राम माधव। (फोटो सोर्स: द इंडियन एक्सप्रेस)

दुनिया की मशहूर अमेरिकी मैग्जीन टाइम में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘डिवाइडर इन चीफ’ बताने वाले आर्टिकल के लेखक आतिश तासीर मोदी समर्थकों के निशाने पर हैं। आतिश को सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल भी किया जा रहा है। लोग उन्हें कांग्रेस का समर्थक और मोदी का धुर आलोचक बता रहे हैं। भारतीय जनता पार्टी (BJP) आतिश तासीर को पाकिस्तानी करार देते हुए उनके खिलाफ मोर्चा खोले हुए है। लेकिन, गौर करने वाली बात यह है कि जिस आतिश तासीर के एक लेख पर बीजेपी उनकी धुर आलोचक हो गई है, उसी बीजेपी के वरिष्ठ नेता राम माधव ने कभी उनकी जमकर सराहना की थी और उन्हें एक बेहतरीन लेखक करार दिया था।

पत्रकार स्वाति चतुर्वेदी ने राम माधव और आतिश तासीर द्वारा शेयर किए गए एक पोस्ट को ट्वीट किया है। जिसमें राम माधव आतिश की जमकर तारीफ कर रहे हैं। उन्होंने आतिश की किताब ‘द ट्वाइस बॉर्न’ का जिक्र करते हुए उसे ‘शानदार’ और ‘मार्मिक’ बताया था। बीजेपी के नेता राम माधव ने इस कीताब पर टिप्पणी करते हुए उनकी लेखनी की उम्दा बताया था। 1 दिसंबर, 2018 को लिखे अपने फेसबुक पोस्ट में हालांकि आखिर में राम माधव ने इस बात का भी जिक्र किया कि आतिश के पास भारतीय राजनीति की समझ थोड़ी कम है, लिहाजा किताब का आखिरी हिस्सा प्रारंभिक गुणवत्ता से दूर छिटका हुआ जान पड़ता है। उन्होंने आतिश की समझ को भारतीय राजनीति के रुप में थोड़ी कमजोर लेकिन धार्मिक एवं सांस्कृतिक दर्शन के संदर्भ में उत्कृष्ठ करार दिया था।

गौरतलब है कि आतिश तासीर का संबंध पाकिस्तान और भारत दोनो से है। साल 1980 में ब्रिटेन में पैदा हुए आतिश के पिता पाकिस्तान के जाने-माने बिजनसमैन और राजनेता सलमान तासीर और मां भारत की वरिष्ठ पत्रकार तवलीन सिंह हैं। आतिश की शुरुआती जिदंगी दिल्ली में बीती है। जबकि, उनके पिता 2007 में पाकिस्तान के केंद्र सरकार में मंत्री बने और बाद में पंजाब प्रांत के गवर्नर बना दिए गए। 2011 में उन्हें उनके ही सुरक्षा बलों ने गोली मार कर हत्या कर दी थी। सलमान तासीर और तवलीन सिंह के बेटे आतिश ने 2001 में अमेरिका के मैसाच्युसेट्स से पॉलिटिकल साइंस की पढ़ाई पूरी की और 2008 में मंटो की कहानियों का अनुवाद भी किया। फिलहा, टाइम मैग्जीन में आतिश द्वारा लिखे गए लेख ‘इंडिया डिवाइडर इन चीफ’ पर काफी बवाल मचा हुआ है।

Next Stories
1 जब 17 साल पहले ‘इंडिया टुडे’ ने कवर पेज पर नरेंद्र मोदी के लिए लिखा था- ‘घृणा के नायक’
2 मोदी ने दिया ‘रेडार ज्ञान’, कांग्रेस सोशल मीडिया हेड दिव्य स्पंदना ने उड़ाया मजाक
3 पीएम नरेंद्र मोदी ने बालाकोट एयरस्ट्राइक से पहले की कहानी बताई, विपक्ष ने पीएम का उड़ाया मजाक
आज का राशिफल
X