ताज़ा खबर
 

चुनाव से पहले आमने-सामने बीजेपी-शिवसेना: फडणवीस बोले- कार शेड वहीं बनाएंगे, आदित्य ठाकरे ने कहा; शेड तो जाएगा

आदित्या ने कहा कि यह मामला राजनीतिक हार जीत का नहीं है यह इकोसिस्टम का मुद्दा है। उन्होंने कहा कि इतने सारे पेड़ काटे जाने के बाद पर्यावरण पर जो असर पड़ेगा वह चिंतनीय है। यह मामला मुंबई बनाम पर्यावरण का है।

आदित्य ठाकरे और देवेंद्र फडणवीस। (फाइल फोटो)

चुनाव आयोग ने महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनावों की तारीख का ऐलान कर दिया है। दोनों राज्यों में 21 अक्टूबर को चुनाव होने हैं और 24 अक्टूबर को मतगणना होनी है। चुनाव से पहले ही महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना एक दूसरे के आमने-सामने आती दिख रही हैं। दरअसल शनिवार को एक कार्यक्रम के दौरान शिवसेना के युवा नेता आदित्य ठाकरे ने मेट्रो कार शेड के लिए आरे के जंगल में पेड़ों की कटाई को लेकर अपने विचार रखें। उन्होंने कहा कि यह मामला सीएम बनाम आदित्य नहीं है ना ही यह मामला बीजेपी बनाम शिवसेना है।

आदित्या ने कहा कि यह मामला राजनीतिक हार जीत का नहीं है यह इकोसिस्टम का मुद्दा है। उन्होंने कहा कि इतने सारे पेड़ काटे जाने के बाद पर्यावरण पर जो असर पड़ेगा वह चिंतनीय है। यह मामला मुंबई बनाम पर्यावरण का है। वहीं,शिवसेना के नेता आदित्य ठाकरे के विचारों के उलट बीजेपी नेता और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मेट्रो कार शेड को विकास के लिए जरूरी बताया। फडणवीस का कहना है कि मेट्रो कार शेड वहीं बनकर रहेगा।


आदित्य ठाकरे ने कहा कि हम मेट्रो के विरोध में नहीं है। जब मेट्रो का बिल पारित हो रहा था तो शिवसेना ने भी साथ दिया था लेकिन आरे के जंगल के 2700 पेड़ काटना उचित नहीं है। वहां जानवर और अन्य चीजें रहती हैं। यह मामला पर्यावरण से जुड़ा हुआ है।गौरतलब है कि मुंबई के आरे में मेट्रो कार शेड बनना है।इसके लिए आरे के जंगलों के 2700 पेड़ काटे जाने का विरोध हो रहा है। फिल्मी सितारों से लेकर बड़ी हस्तियां इसका विरोध कर रही हैं।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 पूर्व सीएम पिता ने मंत्री बेटे को लिखी चिट्ठी- मंदिरों के नजदीक बूचड़खाने हटवाओ, बीजेपी के शासन में हिन्दू आस्था को पहुंची ठेस
2 सर्वे: हरियाणा में दो तिहाई से ज्यादा सीटों पर बीजेपी की बंपर जीत के आसार, पर 52 फीसदी लोगों ने मनोहर लाल खट्टर को बतौर CM नकारा
3 सर्वे: महाराष्ट्र में फिर बन सकती है बीजेपी-शिवसेना की सरकार, कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन को 28 सीटों के नुकसान के आसार