ताज़ा खबर
 

पंजाब में AAP की होगी एंट्री! अमृतसर पहुंचे केजरीवाल तो अकाली दल ने लगाए मुर्दाबाद के नारे

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब दौरे पर सिख कार्ड खेला था, सोमवार को उन्होंने घोषणा की कि 2022 के पंजाब विधानसभा चुनाव में पार्टी की ओर से मुख्यमंत्री पद का चेहरा सिख समुदाय से होगा।

केजरीवाल के पंजाब पहुंचने पर अकाली दल के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया (फोटो- PTI)

पंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सभी दलों की तरफ से तैयारी तेज कर दी गयी है। आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हाल ही में पंजाब का दौरा किया था। केजरीवाल के दौरे के दौरान अकाली दल के कार्यकर्ताओं ने जमकर प्रदर्शन किया था। अकाली समर्थकों ने केजरीवाल वापस जाओ के नारे लगाए थे।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब दौरे पर सिख कार्ड खेला था, सोमवार को उन्होंने घोषणा की कि 2022 के पंजाब विधानसभा चुनाव में पार्टी की ओर से मुख्यमंत्री पद का चेहरा सिख समुदाय से होगा। केजरीवाल से जब पूछा गया कि 2022 के चुनाव में पार्टी की ओर से मुख्यमंत्री पद का चेहरा कौन होगा तो उन्होंने कहा, ”इस संबंध में चर्चाएं जारी हैं। समय आने पर आपको इसकी जानकारी दी जाएगी।”

इधर पंजाब के कोटकपुरा में 2015 में हुई गोलीबारी के मामले की जांच के लिये गठित विशेष जांच दल (एसआईटी) में शामिल रहे भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के पूर्व वरिष्ठ अधिकारी कुंवर विजय प्रताप सिंह सोमवार को आम आदमी पार्टी में शामिल हो गये थे ।

गौरतलब है कि पंजाब कांग्रेस में भी विवाद जारी है। वहीं अकाली दल का भी पिछले साल भारतीय जनता पार्टी से गठबंधन टूट गया था। ऐसे मेंं आने वाले चुनाव में आप को पंजाब में काफी उम्मीद दिख रही है। मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह से खफा चल रहे कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू से बातचीत के बारे में पूछे जाने पर केजरीवाल ने कहा था ”सिद्धू कांग्रेस के नेता हैं। एक वरिष्ठ नेता हैं। मैं उनका बहुत सम्मान करता हूं। मुझे लगता है कि किसी नेता के बारे में बिना सोचे-समझे कोई बात नहीं की जानी चाहिये।” सिद्धू से मुलाकात के बारे में पूछे जाने पर केजरीवाल ने कहा, ”अगर कुछ होता है तो सबसे पहले आपको पता चल जाएगा।’

बताते चलें कि शिरोमणि अकाली दल (संयुक्त) के अध्यक्ष एवं राज्यसभा सदस्य सुखदेव सिंह ढींढसा ने मंगलवार को पार्टी के संगठनात्मक ढांचे का विस्तार किया और महिला इकाई तथा जिला अध्यक्षों की नियुक्ति की। पार्टी महासचिव करनैल सिंह पीर मोहम्मद ने कहा कि नियुक्तियां पार्टी संरक्षक एवं पूर्व सांसद रणजीत सिंह ब्रह्मपुरा के साथ विमर्श के बाद की गई हैं।

Next Stories
1 धर्म परिवर्तन करवाने वालों पर सख़्त योगी सरकार, कहा- NSA लगाया जाए
2 जेडीयू विधायक बोले- पीएम की कुर्सी के दावेदार हैं नीतीश कुमार, दिल्ली पहुंचे सीएम ने कहा- निजी काम से आया हूं
3 भारत में अमेरिका से भी महंगी वैक्सीन, प्राइवेट अस्पतालों को वैक्सीन देने पर सवाल, सुप्रीम कोर्ट पहुंचा मामला
ये पढ़ा क्या?
X