ताज़ा खबर
 

AAP ने NDMC के एमएम खान मामले के मर्डर मामले में नजीब गंज की गिरफ्तारी की मांग की

उपराज्यपाल नजीब जंग और दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी के बीच टकराव आज नये स्तर पर पहुंच गया जब आप ने एनडीएमसी के एक अधिकारी की हत्या में उपराज्यपाल की भूमिका का आरोप लगाते हुए उनकी गिरफ्तारी की मांग कर डाली और राज्य विधानसभा की एक समिति ने कहा कि जंग को पांच घोटालों के मामलों में पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा।

Author नई दिल्ली | June 24, 2016 12:20 AM
दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग। (फाइल फोटो)

उपराज्यपाल नजीब जंग और दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी के बीच टकराव गुरुवार को नए स्तर पर पहुंच गया जब आप ने एनडीएमसी के एक अधिकारी की हत्या में उपराज्यपाल की भूमिका का आरोप लगाते हुए उनकी गिरफ्तारी की मांग कर डाली और राज्य विधानसभा की एक समिति ने कहा कि जंग को पांच घोटालों के मामलों में पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा।

आम आदमी पार्टी ने एनडीएमसी के अधिकारी एमएम खान की पिछले दिनों हुई हत्या को लेकर जंग के साथ टकराव तेज कर दिया। खान ने एक होटल कारोबारी की लीज बढ़ाने के लिए रिश्वत लेने से इनकार कर दिया था जिसके बाद कथित तौर पर होटल कारोबारी के इशारे पर उनकी हत्या कर दी गई।

आप की दिल्ली इकाई के संयोजक दिलीप पांडेय ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मामले में उनकी (जंग की) भूमिका संदिग्ध है। उन्होंने खान के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर एनडीएमसी को क्यों लिखा हम उपराज्यपाल की गिरफ्तारी और उन्हें पद से हटाने की मांग करते हैं।

उन्होंने कहा कि हम लोग साथ ही मांग करते है कि दिल्ली पुलिस उपराज्यपाल को रिपोर्ट करना बंद करे और गृह मंत्रालय को रिपोर्ट करे।

यह प्रकाश में आया है कि दिल्ली के होटल व्यवसायी रमेश कक्कड़ से रिश्वत लेने से कथित तौर पर इनकार करने के कारण हुई खान की हत्या के एक दिन बाद जंग के कार्यालय ने खान के खिलाफ कक्कड़ की याचिका को कथित तौर पर एनडीएमसी को भेजा था और कानून के आधार पर कार्रवाई करने को कहा था।

नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) में संपदा अधिकारी के तौर पर तैनात खान की जामिया नगर इलाके में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। घटना के ठीक अगले दिन उन्हें होटल द कनॉट के पटटे को लेकर अंतिम निर्णय देना था। यह होटल एनडीएमसी की जमीन पर चल रहा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App